वाराणसी के तर्ज पर Ayodhya में सरयू के तट पर भी बनाई जाएगी टेंट सिटी, प्रशासन ने दिया प्रस्ताव

tent city
प्रतिरूप फोटो
ANI Image
प्रयागराज और वाराणसी की तर्ज पर अब अयोध्या में भी टेंट सिटी विकसित करने का प्रस्ताव है। नया घाट पर पर्यटन विभाग की भूमि पर यह नगर बसाया जाना प्रस्तावित है। इसमें पर्यटकों को स्थाई आवासीय सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। भारतीय मूल के कनाडाई चिकित्सकों ने टेंट सिटी के विकास में निवेश करने में रुचि दिखाई है।

अयोध्या। अयोध्या आने वाले श्रद्धालु जल्द ही सरयू नदी के तट पर बनायी गयी टेंट सिटी में ठहर सकेंगे। स्थानीय प्रशासन ने इसे विकसित करने का प्रस्ताव दिया है। अयोध्या के पर्यटन अधिकारी आर.पी. यादव ने बुधवार को बताया कि प्रयागराज और वाराणसी की तर्ज पर अब अयोध्या में भी टेंट सिटी विकसित करने का प्रस्ताव है।

नया घाट पर पर्यटन विभाग की भूमि पर यह नगर बसाया जाना प्रस्तावित है। इसमें पर्यटकों को स्थाई आवासीय सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। यादव ने कहा कि इसके अलावा अयोध्या में कल्पवास करने वाले और मठ के मंदिरों में रहने वाले श्रद्धालुओं को भी टेंट सिटी में सुविधाएं दी जाएंगी। यादव ने कहा कि पर्यटन विभाग उन्हें जमीन उपलब्ध करायेगा और निवेशक उन्हें तम्बू प्रदान करेंगे।

उन्होंने बताया कि अयोध्या का दौरा करने वाले भारतीय मूल के कनाडाई चिकित्सकों के एक समूह ने टेंट सिटी के विकास में निवेश करने में रुचि दिखाई है। श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास ने इस पहल की सराहना करते हुए कहा, बाहर से आने के बाद जगह से वंचित रहने वाले लोगों को अब कहीं भटकना नहीं पड़ेगा। वे जल्द ही टेंट सिटी में रह सकेंगे।

दास ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की भी सराहना करते हुए कहा, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अयोध्या के बारे में बहुत सोचते हैं। अयोध्या में टेंट सिटी बनाने का यह प्रस्ताव बहुत ही सुंदर पहल है। हम इसका स्वागत करते हैं। मौजूदा वक्त में फिलहाल संगम नगरी प्रयागराज और वाराणसी में श्रद्धालुओं के लिए टेंट सिटी बनाई गई है। 

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़