भाजपा और बीजद के बीच गुप्त समझौता होने का आरोप निराधार: प्रधान

the-allegation-of-having-a-secret-agreement-between-bjp-and-bjd-is-baseless-pradhan
प्रधान ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने राज्यसभा उपचुनावों में भाजपा प्रत्याशी को बीजद के समर्थन के लिए ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से कोई गुप्त आग्रह नहीं किया। उन्होंने कहा कि इसी तरह मुख्यमंत्री ने भी वैष्णव की उम्मीदवारी का खुले तौर पर समर्थन किया।

भुवनेश्वर। केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने राज्यसभा के लिए भाजपा के उम्मीदवार अश्विनी वैष्णव को बीजद की ओर से समर्थन दिए जाने के पीछे दोनों के बीच “साठगांठ” होने की बात कहने को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भाजपा और बीजद के बीच “कोई गुप्त समझौता” नहीं हुआ बल्कि यह ओडिशा के हित को लेकर “आपसी समझदारी” थी। पेट्रोलियम एवं इस्पात मंत्री ने संवाददाताओं से कहा, “राज्यसभा उपचुनाव के लिए वैष्णव की उम्मीदवारी में भाजपा और बीजद के बीच गुप्त समझौता होने का आरोप निराधार है। इसमें कुछ भी गोपनीय नहीं बल्कि हर चीज खुले तौर पर हुई।”

इसे भी पढ़ें: भाजपा विधायकों ने शाह को विधायक दल का नेता घोषित करने के लिए अधिकृत किया

प्रधान ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने राज्यसभा उपचुनावों में भाजपा प्रत्याशी को बीजद के समर्थन के लिए ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से कोई गुप्त आग्रह नहीं किया। उन्होंने कहा कि इसी तरह मुख्यमंत्री ने भी वैष्णव की उम्मीदवारी का खुले तौर पर समर्थन किया। 

 

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़