विपक्ष के वारिसों को नहीं मिली कामयाबी, एक एक करके सारे किले ढहे

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 25 2019 8:40AM
विपक्ष के वारिसों को नहीं मिली कामयाबी, एक एक करके सारे किले ढहे
Image Source: Google

चार बार कांग्रेस के सांसद रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया मध्यप्रदेश में गुना से हार गए। इस सीट पर उनके पिता, पूर्व केंद्रीय मंत्री माधव राव सिंधिया का कब्जा था।

नयी दिल्ली। देश में भाजपा के शानदार प्रदर्शन के बीच अधिकतर विपक्षी नेताओं के परिवार के वारिसों को हार का सामना करना पड़ा जबकि राजग के अधिकतर उम्मीदवार जीतने में कामयाब रहे। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अमेठी सीट से हार गए। कांग्रेस का इस सीट पर लंबे समय से कब्जा था। चार बार कांग्रेस के सांसद रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया मध्यप्रदेश में गुना से हार गए। इस सीट पर उनके पिता, पूर्व केंद्रीय मंत्री माधव राव सिंधिया का कब्जा था। कांग्रेस के पास 1999 से यह सीट थी। 

इसे भी पढ़ें: दिल्ली में 45000 से अधिक लोगों ने नोटा चुना, पिछली बार से 6,200 अधिक लोगों की पसंद

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के बेटे दीपेंद्र हुड्डा रोहतक की सीट नहीं बचा पाए। महाराष्ट्र में राकांपा नेता अजित पवार के बेटे पार्थ, मुरली देवड़ा के बेटे मिलिंद देवड़ा और शंकरराव चव्हाण के बेटे अशोक चव्हाण भी क्रमश: मावल, मुंबई दक्षिण और नांदेड़ सीट से चुनाव हार गए। 



रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video