छात्रों की मेहनत का श्रेय मुख्यमंत्री ले रहे हैं, यह अत्यंत शर्मनाक: भाजपा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 28, 2020   20:17
छात्रों की मेहनत का श्रेय मुख्यमंत्री ले रहे हैं, यह अत्यंत शर्मनाक: भाजपा

उन्होंने कहा कि बेंगलुरु नेशनल लॉ कॉलेज के एलुमनाई एसोसिएशन ने इस यात्रा का प्रबंध किया, जिसका श्रेय झारखंड सरकार ले रही है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने यहां एक बयान में हेमंत सरकार पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि यह सरकार तुष्टिकरण और आत्मप्रशंसा में डूबी हुई है।

रांची। झारखंड भाजपा के अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और झारखंड सरकार द्वारा मुंबई से बृहस्पतिवार को विशेष विमान से श्रमिकों को रांची लाए जाने का श्रेय लेने की घटना को अत्यंत शर्मनाक बताया। उन्होंने कहा कि बेंगलुरु नेशनल लॉ कॉलेज के एलुमनाई एसोसिएशन ने इस यात्रा का प्रबंध किया, जिसका श्रेय झारखंड सरकार ले रही है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने यहां एक बयान में हेमंत सरकार पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि यह सरकार तुष्टिकरण और आत्मप्रशंसा में डूबी हुई है।

उन्होंने कहा कि कोविड-19 संकट में केंद्र सरकार के प्रयासों को अपना प्रयास बताते हुए सरकार की आदत इतनी खराब हो चुकी है कि अब नेशनल लॉ स्कूल बेंगलुरु के छात्रों द्वारा झारखंड के मजदूरों को हवाई जहाज द्वारा रांची भेजने के प्रयासों और परिश्रम को भी मुख्यमंत्री अपना प्रयास बताते हुए अपनी पीठ खुद थपथपाने लगे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि युवाओं को रोजगार, बेरोजगारी भत्ता देने की बात करने वाली सरकार युवाओं की कमाई ही खाने में जुट गई है। उन्होंने एलुमिनाई नेटवर्क ऑफ नेशनल लॉ स्कूल, बेंगलुरू के कार्यों और प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि ऐसे कार्य दूसरे लोगों को सेवा के लिये प्रेरित करेंगे। उन्होंने इस बात के लिए भी छात्रों की प्रशंसा की कि छात्रों ने मुख्यमंत्री के बयान पर दबाव बनाते हुए उन्हें अपने बयान को बदलने के लिए विवश किया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।