'देश में गवर्नेंस के हैं दो मॉडल', मनीष सिसोदिया का भाजपा पर हमला, बोले- जनता के पैसों से माफ किए जाते हैं लाखों-करोड़ों के टैक्स

Manish Sisodia
Twitter
उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि आम जनता के लिए चलने वाली जन कल्याणकारी योजनाओं को फ्री की रेवड़ी कहकर उनका मजाक बनाने का प्रयास हो रहा है। वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने इसको लेकर देश को डराने की कोशिश की और कहा कि जनता के टैक्स के पैसे से कल्याणकारी योजनाएं चलती रही तो देश बर्बाद हो जाएगा।

नयी दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी की अरविंद केजरीवाल सरकार में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि भाजपा कल्याणकारी योजनाओं को रेवड़ी बताकर उनका मजाक उड़ा रही है। इसके साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा छात्रों को मुफ्त शिक्षा देने में विश्वास नहीं रखती है।

इसे भी पढ़ें: मनीष सिसोदिया का बड़ा आरोप, दिल्ली नगर निगम में 6000 करोड़ रुपए का हुआ घोटाला, LG को पत्र लिखकर की CBI जांच की मांग 

मनीष सिसोदिया ने कहा कि आम जनता के लिए चलने वाली जन कल्याणकारी योजनाओं को फ्री की रेवड़ी कहकर उनका मजाक बनाने का प्रयास हो रहा है। वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने इसको लेकर देश को डराने की कोशिश की और कहा कि जनता के टैक्स के पैसे से कल्याणकारी योजनाएं चलती रही तो देश बर्बाद हो जाएगा।

निर्मला सीतारमण के बयान पर मनीष सिसोदिया ने कहा कि देश में दो गवर्नेंस के दो मॉडल दिखाई दे रहे हैं। पहला दोस्तवादी मॉडल है, जिसमें सत्ता में बैठे लोगों और दोस्तों के लाखों करोड़ों रुपए के टैक्स माफ किए जाते हैं और इसे विकास का नाम दिया जाता है। दूसरा केजरीवाल मॉडल है। जिसके जरिए जनता के पैसों का इस्तेमाल लोगों को अच्छे स्कूल, अस्पताल, मुफ्त बिजली इत्यादि के लिए किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकारी टैक्स के पैसों से बुजुर्गों को तीर्थ यात्रा कराई जा रही है। महिलाओं को मुफ्त में बसों में सफर की सुविधा दी जा रही है

मनीष सिसोदिया ने सीधे-सीधे भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि एक मॉडल में जनता के टैक्स के पैसों से दोस्तों के टैक्स माफ किए जा रहे हैं और दूसरे मॉडल में जनता के टैक्स के पैसों से करोड़ों लोगों के लिए कल्याणकारी योजनाएं चलाई जा रही हैं।

इसे भी पढ़ें: 'इतने महीने बाद क्यों जागे सिसोदिया', संबित पात्रा बोले- ब्लैक लिस्टेड कंपनियों ने कैसे खोले ठेके? LG ने नियमों के तहत किया काम  

इसी बीच उन्होंने कहा कि दुनिया में जितने भी विकसित देश हैं, उन्होंने अपनी जनता के लिए पैसे खर्च किए हैं। कई देश तो 99 फीसदी बच्चों को मुफ्त में शिक्षा देते हैं। जबकि आप लोग (भाजपा) बोल रहे हो कि मुफ्त में शिक्षा देने से देश बर्बाद हो जाएगा। मनीष सिसोदिया ने कहा कि दुनिया में 39 विकसित देश ऐसे हैं, जो बच्चों को मुफ्त शिक्षा देते हैं। निर्मला सीतारमण जी गूगल करके देश लें।

अन्य न्यूज़