कश्मीर में तीन दिन की पाबंदियों के बाद हालात सामान्य

हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकी सबजार भट्ट के मारे जाने को लेकर पैदा हुए हालात में तीन दिनों तक पाबंदियां लगाए जाने एवं हड़ताल के बाद आज कश्मीर घाटी में सामान्य स्थिति बहाल हो गई।

श्रीनगर। सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकी सबजार भट्ट के मारे जाने को लेकर पैदा हुए हालात में तीन दिनों तक पाबंदियां लगाए जाने एवं हड़ताल के बाद आज कश्मीर घाटी में सामान्य स्थिति बहाल हो गई। अधिकारियों ने कहा कि कश्मीर में कहीं भी किसी तरह की पाबंदी नहीं है और घाटी में जनजीवन सामान्य ढंग से चल रहा है। अधिकारियों के अनुसार दुकानें, कार्यालय, ईंधन स्टेशन और दूसरे कारोबारी प्रतिष्ठान आज की सुबह खुले रहे, जबकि सरकारी परिवहन सेवा भी तीन दिनों के बाद बहाल हो गई।

उन्होंने कहा कि घाटी के दूसरे जिलों से भी सामान्य स्थिति बहाल होने की सूचना मिली हैं। बहरहाल, अनंतनाग, शोपियां, पुलवामा और बडगाम जिलों में सभी स्कूलों और कॉलेजों में कक्षाएं ऐहतियातन निलंबित कर दी गई हैं। अधिकारियों ने कहा कि श्रीनगर में सभी उच्चतर माध्यमिक स्कूलों और कॉलेजों को आज बंद किया गया है। प्रशासन ने बीती रात प्रीपेड नंबरों पर आउटगोइंग की सुविधा बहाल कर दी, लेकिन मोबाइल इंटरनेट सेवाएं अब भी निलंबित हैं। बीते रविवार को अनंतनाग, पुलवामा, कुलगाम और शोपियां जिलों में कर्फ्यू जैसे प्रतिबंध लगाए गए थे तथा श्रीनगर के सात थाना क्षेत्रों एवं सोपोर में इस तरह की पाबंदियां लगाई गई थीं।

श्रीनगर के सात थाना क्षेत्रों खायनार, नौहट्टा, सफकदाल, एम आर गंज, रैनावारी, क्रालखुद और मैसूमा में पाबंदियां लगाई गई थीं। पुलवामा जिले के त्राल इलाके में हुई मुठभेड़ में भट्ट अपने साथियों के साथ मारा गया था।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़