लोग इस बार भाजपा के जुमलों के झांसे में नहीं आने वाले: धवन

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 3 2019 5:39PM
लोग इस बार भाजपा के जुमलों के झांसे में नहीं आने वाले: धवन
Image Source: Google

धवन ने कहा, कालाधन वापस लाने, हर नागरिक के खाते में 15-15 लाख रुपये डालने, हर साल दो करोड़ रोजगार देने, अनुच्छेद 370 हटाने, समान नागरिक संहिता लागू करने और अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण करने समेत सभी वादे जुमले साबित हुए। उन्होंने भाजपा पर असल मुद्दों से बचने का आरोप लगाया। गौरतलब है कि धवन पिछले संसदीय चुनाव से पहले भाजपा में शामिल हो गए थे लेकिन इस बार भी पार्टी ने टिकट नहीं दिया।

चंडीगढ़। पूर्व केन्द्रीय मंत्री और चंडीगढ़ लोकसभा सीट से आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार हरमोहन धवन ने शुक्रवार को दावा किया कि लोग इस बार जुमलों के झांसे में नहीं आने वाले और वे भाजपा को सत्ता से बाहर कर देंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा ने 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान कई वादे किये, लेकिन उन्हें पूरा नहीं किया। धवन (71) ने कहा, इस बार 2014 की तरह मोदी लहर नहीं है। उस समय मैंने भी नरेन्द्र मोदी का समर्थन किया था क्योंकि उन्होंने लोगों के बीच उम्मीद जगाई थी और कई वादे भी किये थे, लेकिन वो जमीन पर नहीं उतर पाए।  

इसे भी पढ़ें: टिकट कटने से नाराज सांसद ने कहा- भाजपा ने गौ हत्या कर दी

धवन ने कहा, कालाधन वापस लाने, हर नागरिक के खाते में 15-15 लाख रुपये डालने, हर साल दो करोड़ रोजगार देने, अनुच्छेद 370 हटाने, समान नागरिक संहिता लागू करने और अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण करने समेत सभी वादे जुमले साबित हुए। उन्होंने भाजपा पर असल मुद्दों से बचने का आरोप लगाया। गौरतलब है कि धवन पिछले संसदीय चुनाव से पहले भाजपा में शामिल हो गए थे लेकिन इस बार भी पार्टी ने टिकट नहीं दिया। छह महीने पहले ही वह  आप  में शामिल हुए थे। धवन ने 1979 में सक्रिय राजनीति में कदम रखा था और 1981 में वह जनता पार्टी की स्थानीय इकाई के अध्यक्ष बने थे। वह 1989 में चुनाव जीतकर संसद पहुंचे और केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री बने। चंडीगढ़ सीट पर उनका मुकाबला भाजपा उम्मीदवार किरण खेर और कांग्रेस के चार बार सांसद रहे पवन कुमार बंसल से है।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story