भाजपा नेता रघुराज सिंह को मिली बम से उड़ाने की चेतावनी, पहले भी आया था धमकी वाला फोन

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 25, 2020   10:50
भाजपा नेता रघुराज सिंह को मिली बम से उड़ाने की चेतावनी, पहले भी आया था धमकी वाला फोन

भाजपा नेता रघुराज सिंह को फोन पर फिर धमकी मिलने का मामला समने आया है। उन्होंने बताया कि मथुरा पहुंचने के कुछ देर बाद ही उनके पास एक फोन आया, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह और केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को अपशब्द बोलते हुए उन्हें बम से उड़ाने की धमकी दी गई।

मथुरा। उत्तर प्रदेश के श्रम एवं सेवायोजन राज्य परामर्शदात्री समिति के अध्यक्ष एवं भाजपा नेता रघुराज सिंह को फोन पर फिर धमकी मिलने का मामला समने आया है। रघुराज सिंह शुक्रवार को वृंदावन पहुंचे थे। उन्होंने बताया कि यहां पहुंचने के कुछ देर बाद ही उनके पास एक फोन आया, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह और केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को अपशब्द बोलते हुए उन्हें बम से उड़ाने की धमकी दी गई। 

इसे भी पढ़ें: येदियुरप्पा बोले, तीन-चार दिनों में होगा मंत्रिमंडल का विस्तार

गौरतलब है कि 12 जनवरी को अलीगढ़ में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के समर्थन में नुमाइश ग्राउंड में आयोजित कार्यक्रम में रघुराज सिंह ने भाषण दिया था, जिसके बाद से ही उन्हें कथित रूप से धमकी दी जा रही है। रघुराज सिंह ने बताया कि 14 जनवरी को दोपहर में पांच बार फोन पर हंगरी के नंबर से धमकी दी गई थी। 17 जनवरी को एटा महोत्सव में भी दो बार धमकी मिली।

इसे भी पढ़ें: सिसोदिया की शाह को चुनौती, दिल्ली जैसा कोई सरकारी स्कूल भाजपा शासित राज्य में दिखाएं

सिंह ने बताया कि उन्होंने इसकी जानकारी मथुरा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शलभ माथुर और अलीगढ़ के एसएसपी आकाश कुलहरि को दे दी है। एसएसपी शलभ माथुर का कहना है कि रघुराज सिंह की सूचना पर उनकी सुरक्षा बढ़ा दी गई है तथा पूरी स्थिति की समीक्षा कर अगला निर्णय लिया जाएगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।