कांग्रेस की धर्मनिरपेक्षता रोड पर तिलक और रूम में टोपी का तड़का: भाजपा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 21, 2018   19:50
कांग्रेस की धर्मनिरपेक्षता रोड पर तिलक और रूम में टोपी का तड़का: भाजपा

नकवी ने कहा कि मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ का बयान कांग्रेस की धर्मनिरपेक्षता का साम्प्रदायिक तड़का है। उन्होंने कहा, ‘‘ रोड पर तिलक और रूम में टोपी यह कांग्रेस की धर्मनिरपेक्षता की सचाई है।

नयी दिल्ली। मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ से कथित रूप से जुड़े एक वीडियो में मुस्लिम वोट बैंक से संबंधित उल्लेख को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधते हुए भाजपा ने बुधवार को कहा कि कांग्रेस की धर्मनिरपेक्षता ‘रोड पर तिलक और रूम में टोपी’ का तड़का है जो वोटबैंक के तुष्टीकरण पर आधारित रही है। मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर भाजपा के वरिष्ठ नेता मुख्तार अब्बास नकवी, डा. एस एस आहलुवालिया, अनिल बलूनी एवं अन्य नेताओं ने बुधवार शाम निर्वाचन आयोग जाकर कमलनाथ से जुड़े कथित वीडियो के संबंध में शिकायत दर्ज करायी। 

नकवी ने कहा कि मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ का बयान कांग्रेस की धर्मनिरपेक्षता का साम्प्रदायिक तड़का है। उन्होंने कहा, ‘‘ रोड पर तिलक और रूम में टोपी यह कांग्रेस की धर्मनिरपेक्षता की सचाई है। कांग्रेस इस तरह के साम्प्रदायिक षड्यंत्रों की हिस्ट्रीशीटर पार्टी है।’’ केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश में कांग्रेस नेता कमलनाथ ने मुस्लिम मतदाताओ को कांग्रेस के पक्ष में 90 प्रतिशत से ज्याद मतदान करने का जो दबाव डाला है, वह चुनावी कानूनों के तहत गंभीर अपराध की श्रेणी में आता है। 

नकवी ने कहा कि उन्होंने इस विषय में निर्वाचन आयोग से कहा है कि कांग्रेस और कमनाथ के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए ताकि निष्पक्ष, स्वतंत्र और भयमुक्त माहौल में चुनाव कराया जा सके। उल्लेखनीय है कि कमलनाथ से जुड़ा एक वीडियो सामने आया है जिसमें वह कथित तौर पर मुस्लिम वोट बैंक को लेकर पार्टी कार्यकर्ताओं से बात कर रहे हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।