सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों के विनिवेश पर विरोध जताते हुए TMC ने किया कार्यवाही का बहिष्कार

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 8 2019 3:52PM
सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों के विनिवेश पर विरोध जताते हुए TMC ने किया कार्यवाही का बहिष्कार
Image Source: Google

शून्यकाल के बाद जब प्रश्नकाल शुरू हुआ तब तृणमूल सदस्य सुखेन्दु शेखर राय ने व्यवस्था का प्रश्न उठाया। लेकिन सभापति ने कहा कि सदन में अभी व्यवस्था नहीं है। सभापति ने तृणमूल सदस्यों से अपने स्थानों पर लौट जाने को कहा। तृणमूल सदस्य अपने स्थानों पर आ गए।

नयी दिल्ली। सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों के विनिवेश पर विरोध जताते हुए राज्यसभा में सोमवार को तृणमूल कांग्रेस के सदस्य कार्यवाही का बहिष्कार करते हुए सदन से बाहर चले गए। शून्यकाल के दौरान तृणमूल कांग्रेस के सदस्यों ने सरकारी स्वामित्व वाली कंपनियों के विनिवेश का मुद्दा उठाना चाहा। सभापति एम वेंकैया नायडू ने इसकी अनुमति नहीं दी। नायडू ने कहा कि मुद्दे उठाने की एक प्रक्रिया होती है और वह किसी तरह के दबाव में नहीं आएंगे। उन्होंने कहा कि अगर समय बचेगा तब वह तृणमूल सदस्यों को उनका मुद्दा उठाने की अनुमति देंगे।

इसे भी पढ़ें: केन्द्रीय बजट 2019-2020 पर लोकसभा में सामान्य चर्चा जारी

इसके बावजूद तृणमूल कांग्रेस के सदस्यों ने अपना मुद्दा उठाना चाहा। तब सभापति ने कहा कि कुछ भी रिकॉर्ड पर नहीं जाएगा। इस पर तृणमूल सदस्य अपने स्थान से उठ कर आगे आ गए और नारे लगाने लगे। शून्यकाल के बाद जब प्रश्नकाल शुरू हुआ तब तृणमूल सदस्य सुखेन्दु शेखर राय ने व्यवस्था का प्रश्न उठाया। लेकिन सभापति ने कहा कि सदन में अभी व्यवस्था नहीं है। सभापति ने तृणमूल सदस्यों से अपने स्थानों पर लौट जाने को कहा। तृणमूल सदस्य अपने स्थानों पर आ गए। सुखेन्दु शेखर राय ने दूसरी बार व्यवस्था का प्रश्न उठाने की अनुमति मांगी। लेकिन सभापति ने इंकार कर दिया। इस पर तृणमूल कांग्रेस के सदस्य कार्यवाही का बहिष्कार करते हुए सदन से बाहर चले गए। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video