National Highlights: कर्नाटक विधानसभा को संबोधित करते हुए लोकसभा अध्यक्ष ने कहा- कानूनों पर व्यापक चर्चा करना हमारा कर्तव्य

National Highlights: कर्नाटक विधानसभा को संबोधित करते हुए लोकसभा अध्यक्ष ने कहा- कानूनों पर व्यापक चर्चा करना हमारा कर्तव्य

कर्नाटक विधानसभा को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने संबोधित करते हुए कहा कि हमारे द्वारा बनाए गए कानूनों पर व्यापक चर्चा करना हमारा कर्तव्य है। इसमें विधायकों की अधिक सक्रिय भागीदारी होनी चाहिए ताकि बनने वाले कानूनों पर कोई सवाल न उठाया जा सके।

प्रभासाक्षी की खास खबरों में जानिए दिनभर की उन घटनाओं के बारे में जिनका सरोकार सीधे जनता से है। कर्नाटक विधानसभा को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने संबोधित करते हुए कहा कि हमारे द्वारा बनाए गए कानूनों पर व्यापक चर्चा करना हमारा कर्तव्य है। इसमें विधायकों की अधिक सक्रिय भागीदारी होनी चाहिए ताकि बनने वाले कानूनों पर कोई सवाल न उठाया जा सके। पढ़िए विस्तार से सभी खबरों को..

मेड इन चाइना वाले अल खालिद के मुकाबिल मेक इन इंडिया वाला अर्जुन, कौन पड़ेगा भारी, जानें नए वर्जन की सारी जानकारी

रक्षा मंत्रालय ने भारतीय सेना की लड़ाकू क्षमताओं में इजाफे के लिए एक बड़ा कदम उठाते हुए 7,523 करोड़ रुपये की लागत से भारतीय सेना की खातिर 118 मुख्य युद्धक टैंक (एमबीटी) अर्जुन की खरीद को लेकर एक करार को अंतिम रूप दिया। मंत्रालय ने अर्जुन एमके-1ए टैंकों के लिए हेवी व्हीकल फैक्ट्री (एचवीएफ), अवडी, चेन्नई को यह ऑर्डर दिया है। यह एमबीटी एमके-1ए अर्जुन टैंक का नया संस्करण है, जिसमें 72 नयी विशेषताएं और एमके-1 संस्करण से अधिक स्वदेशी उपकरण हैं। ऐसे में आइए जानते हैं इस नए संस्करण में क्या अलग है और इसके आने से सामरिक और रणनीतिक रूप से भारतीय सेना में क्या प्रभाव पड़ेगा।

कानून बनाते समय होनी चाहिए व्यापक चर्चा, ओम बिरला बोले- सदन में बाधा या हंगामा ठीक नहीं

आज कर्नाटक विधानसभा को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने संबोधित किया। इस दौरान ओम बिरला ने कहा कि जब संविधान का मसौदा तैयार किया गया था, तो भावना हमारे विधायी को अधिक जागरूक, कर्तव्यपरायण, ईमानदार और जिम्मेदार बनाने की थी ताकि लोगों की सामाजिक और आर्थिक बेहतरी के लिए मार्ग प्रशस्त किया जा सके। इस दौरान उन्होंने कहा कि हमारे द्वारा बनाए गए कानूनों पर व्यापक चर्चा करना हमारा कर्तव्य है। इसमें विधायकों की अधिक सक्रिय भागीदारी होनी चाहिए ताकि बनने वाले कानूनों पर कोई सवाल न उठाया जा सके।

अब मेडिकल फाइल ले जाने की जरूरत नहीं, यूनिक हेल्थ आईडी में होगी सारी जानकारी

केंद्र की मोदी सरकार देशवासियों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं देने के लिए कटिबद्ध है। ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 27 सितंबर को प्रधानमंत्री डिजिटल स्वास्थ्य योजना की शुरुआत करेंगे। मनसुख मांडविया ने गुरुवार को ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। उन्होंने ट्वीट किया कि प्रधानमंत्री 27 सितंबर को प्रधानमंत्री डिजिटल स्वास्थ्य मिशन की घोषणा करेंगे। इसके तहत लोगों को एक यूनिक डिजिटल हेल्थ आईडी प्रदान की जाएगी। जिसमें व्यक्ति के सभी स्वास्थ्य रिकॉर्ड होंगे।

राकेश टिकैत ने अमेरिकी राष्ट्रपति से लगाई गुहार, बोले- डियर बाइडन, मोदी से किसान आंदोलन पर करें बात

देश में कृषि कानूनों को लेकर किसान नेता लगातार 11 महीने से केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। कृषि कानूनों को लेकर सरकार और किसान नेताओं के बीच अब तक 11 दौर की बातचीत हो चुकी है लेकिन हल नहीं निकल सका है। किसान लगातार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी सरकार पर हमलावर हैं। इन सबके बीच किसान नेता और भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने एक बार फिर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला किया है। इसके साथ ही उन्होंने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन से भी अपील की है। दरअसल, भारतीय प्रधानमंत्री इन दिनों अमेरिका दौरे पर हैं जहां उनकी मुलाकात अमेरिकी राष्ट्रपति जो जो बाइडन से होने वाली है।

जिस ड्रोन से अमेरिका ने कासिम सुलेमानी को मारा वो अब होगा भारत के पास! रक्षा सौदों के लिहाज से पीएम मोदी की यात्रा यूं हुई खास

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अभी अमेरिका के तीन दिवसीय दौरे पर हैं। लेकिन उनकी एक मुलाकात ने पाकिस्तान और चीन के माथे पर पसीना ला दिया। ये मुलाकात अमेरिका की डिफेंस कंपनी जनरल ऑटोमिक्स के सीईओ से रही। ऐसा इसलिए क्योंकि पीएम मोदी ने अमेरिका की 5 दिग्गज कंपनियों के सीईओ के साथ मीटिंग की है।  इसमें जनरल एटोमिक्स के सीईओ विवेक लाल और ब्लैक स्टोन के ए श्वार्जमैन से भी शामिल हैं। पीएम मोदी और विवेक लाल की 20 मिनट तक चली यह मीटिंग रक्षा सौदे और डिफेंस टेक्नॉलजी के लिहाज से बेहद अहम है। जनरल एटॉमिक्स ही खतरनाक प्रीडेटर ड्रोन की निर्माता है। भारत जनरल ऑटोमिक्स से 30 प्रीडेटर एमक्यू-9 ड्रोन खरीदने की तैयारी में है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।