आपकी जेब पर पड़ेगा असर ! महंगा हुआ ट्रेन का सफर

Indian Railway
अनुराग गुप्ता । Feb 25, 2021 10:58AM
कोरोना वायरस महामारी के दौर में गैरजरूरी यात्राओं को कम करने के उद्देश्य से बढ़ाए गए किराये का असर 30-40 किमी तक का सफर करने वाले यात्रियों पर पड़ेगा।

नयी दिल्ली। रेलवे ने यात्री किराया बढ़ाया है। बता दें कि पैसेंजर ट्रेनों और कम दूरी की यात्रा के लिए ट्रेनों के किराये में इजाफा किया गया है। इस पर रेलवे की प्रतिक्रिया भी सामने आ गई है। इसके लिए रेलवे ने गैरजरूरी यात्राओं को जिम्मेदार ठहराया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रेलवे ने कहा कि कोरोना को ध्यान में रखते हुए गैरजरूरी यात्राओं में कमी लाने के लक्ष्य से किराये में मामूली वृद्धि की गई है। 

इसे भी पढ़ें: बंगाल में हिंसा के माहौल को समाप्त करने के प्रयास होने चाहिए: पीयूष गोयल 

30-40 किमी के सफर पर पड़ेगा असर

कोरोना वायरस महामारी के दौर में गैरजरूरी यात्राओं को कम करने के उद्देश्य से बढ़ाए गए किराये का असर 30-40 किमी तक का सफर करने वाले यात्रियों पर पड़ेगा। रेलवे ने बयान जारी कर बताया कि 3 फीसदी ट्रेनों में किराये का असर पड़ेगा। हालांकि रेलवे को यात्रियों की आलोचना झेलनी पड़ रही है।

रेलवे ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी अभी भी मौजूद है और कुछ राज्यों में इसकी स्थिति भी बिगड़ रही है। ऐसे में बढ़े हुए किराये को ट्रेन में भीड़ को कम करने और कोरोना के प्रसार को रोकने के उद्देश्य से देखना चाहिए। मार्च से बंद थी ट्रेनें 

इसे भी पढ़ें: रेलवे ने यात्रियों के लिए शुरू की नई सुविधा, अब चादर और कंबल की नहीं होगी परेशानी

पिछले साल कोरोना वायरस महामारी के बढ़ते प्रसार के मद्देनजर सरकार ने ट्रेनों के संचालन पर 22 मार्च 2020 को रोक लगा दी थी और देश में लॉकडाउन की घोषणा की गई। हालांकि, प्रवासी मजदूरों के पलायन को देखते हुए केंद्र सरकार ने विशेष ट्रेनें शुरू की थी और फिर बाद में कुछ और ट्रेनों के संचालन को मंजूरी दी गईं। अभी भी पूरी तरह से ट्रेनों का संचालन शुरू नहीं हुआ है।

मौजूदा समय में 1250 मेल/एक्सप्रेस, 5350 उपनगरीय रेल सेवाएं और 326 से ज्यादा ट्रेनें चल रही हैं और इनमें कम दूरी की यात्रा वाली ट्रेनें 3 फीसदी से भी कम हैं। जिनका किराया बढ़ाया गया है। हालांकि, सरकार चरणबद्ध तरीके से धीरे-धीरे ट्रेनों को चला रही है।

अन्य न्यूज़