तृणमूल कांग्रेस ने भाजपा को घेरने के लिए कसी कमर, सोशल मी़डिया पर शुरू किया ये अभियान

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जुलाई 26, 2020   16:21
तृणमूल कांग्रेस ने भाजपा को घेरने के लिए कसी कमर, सोशल मी़डिया पर शुरू किया ये अभियान

पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने भाजपा के सोशल मीडिया अभियान के जवाब में रविवार को एक नया अभियान शुरू किया, जिसमें राज्य सरकार की उपलब्धियों के साथ ही इस बात को रेखांकित किया जाएगा कि केन्द्र किस प्रकार से संघवाद को कथित तौर पर नष्ट कर रहा है।

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने भाजपा के सोशल मीडिया अभियान के जवाब में रविवार को एक नया अभियान शुरू किया, जिसमें राज्य सरकार की उपलब्धियों के साथ ही इस बात को रेखांकित किया जाएगा कि केन्द्र किस प्रकार से संघवाद को कथित तौर पर नष्ट कर रहा है। अभियान का नाम है ‘‘शोजा बांग्लाए बोलची’’। इसका अर्थ है ‘सीधे बांग्ला में बोलते हुए’। यह एक सप्ताह में तीन दिन तक चलने वाला एक वीडियो सीरीज है, जिसके प्रस्तोता राज्यसभा में पार्टी के नेता डेरेक ओ ब्रायनहोंगे। तृणमूल कांग्रेस ने एक बयान में कहा,‘‘ एक मिनट की वीडियो क्लिप को प्रति रविवार,बुधवार और शुक्रवार को सुबह 11 बजे जारी किया जाएगा।

इसे भी पढ़ें: राजस्थान में कांग्रेस ने भाजपा के खिलाफ खोला मोर्चा, ‘लोकतंत्र के लिए आवाज उठाओ’ मुहिम शुरू की

इस सीरीज के अगले कुछ माह तक सोशल मीडिया में चलने की उम्मीद है।’’ बयान में कहा गया कि वीडियो में ऐसे मुद्दों को उठाया जाएगा जो वर्तमान के सामजिक, राजनीतिक और आर्थिक ढांचे में प्रासंगिक हैं। बयान के अनुसार,‘‘ वीडियो में बताया जाएगा कि ममता बनर्जी के नेतृत्व में किस प्रकार से बंगाल ने नौ वर्षों में सभी मानकों में असाधारण प्रगति की है। अन्य विषयों में केन्द्र किस प्रकार से संघवाद को कथित तौर पर नष्ट कर रहा है, और किस प्रकार से राज्यों को वंचित किया जा रहा है आदि शामिल होंगे।’’

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस का 'लोकतंत्र बचाओ, संविधान बचाओ' अभियान, अब राजभवनों के सामने धरना देगी पार्टी

तृणमूल कांग्रेस सूत्रों के अनुसार इस सोशल मीडिया अभियान का इस्तेमाल भाजपा के ‘‘फर्जी खबरों तथा राज्य सरकार और पार्टी के खिलाफ भाषण कला’’ के आरोपों के जवाब में किया जाएगा। गौरतलब है कि पार्टी प्रमुख ने अगले साल पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए बृहस्पतिवार को पार्टी संगठन में बड़े पैमाने पर फेरबदल करने की घोषणा करते हुए युवा एवं नये चेहरों को नेतृत्व करने की जिम्मेदारी सौंपी। राज्य में भाजपा से बढ़ती चुनौती के मद्देनजर नेतृत्व में बदलाव किया गया। भगवा पार्टी ने 2019 लोकसभा चुनाव में 42 सीटों में से 18 पर जीत हासिल की थी और तृणमूल कांग्रेस को 34 सीटों से घटा कर 22 पर ला दिया था।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।