TRS का मुस्लिम आरक्षण का वादा देश के साथ गद्दारी, आंबेडकर का अपमान: मोदी

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Dec 4 2018 8:39AM
TRS का मुस्लिम आरक्षण का वादा देश के साथ गद्दारी, आंबेडकर का अपमान: मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को आरोप लगाया कि तेलंगाना की कार्यवाहक सरकार दलितों के अधिकार छीन कर मुस्लिमों को धर्म आधारित 12 प्रतिशत आरक्षण का वादा कर देश के साथ गद्दारी और संविधान निर्माता भीमराव आंबेडकर का अपमान कर रही है।

हैदराबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को आरोप लगाया कि तेलंगाना की कार्यवाहक सरकार दलितों के अधिकार छीन कर मुस्लिमों को धर्म आधारित 12 प्रतिशत आरक्षण का वादा कर देश के साथ गद्दारी और संविधान निर्माता भीमराव आंबेडकर का अपमान कर रही है। चुनाव रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि देश के महान नेताओं ने संविधान कर रचना करते हुए देश की एकता एवं अखंडता के हित में तथा उज्ज्वल भविष्य के लिए किसी भी कीमत पर धर्म आधारित आरक्षण नहीं देने का फैसला किया था। कार्यवाहक मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि उन्हें आश्चर्य है कि ये सत्ता के भूखे लोग अपने परिवार के लिए अपनी कुर्सी बचाने के लिए इस तरह के कदम उठाते हैं।

इसे भी पढ़ें: मोदी का कांग्रेस पर पलटवार, पूछा: हिंदुत्व का ये ज्ञान कहां से लाए?

उन्होंने रैली में मौजूद लोगों से सवाल किया, ‘अल्पसंख्यकों को आरक्षण देने का खेल, ये देश के साथ गद्दारी है या नहीं?’ मोदी ने कहा कि इस वादे को पूरा कैसे किया जाएगा क्योंकि उच्चतम न्यायालय का आदेश इसकी अनुमति नहीं देता है। मोदी ने कहा, ‘क्या यह संविधान सभा का अपमान नहीं है, क्या यह बी आर आंबेडकर का अपमान नहीं है?’ उन्होंने कहा, ‘उच्चतम न्यायालय ने (50 प्रतिशत की) सीमा निर्धारित की है। आप इससे आगे नहीं जा सकते। क्या इसका मतलब यह हुआ कि आप दलितों, एसटी और ओबीसी के अधिकार (आरक्षण) छीनेंगे?’

उन्होंने रैली में मौजूद लोगों से पूछा, ‘अपनी कुर्सी बचाने के लिए, आप (राव) पीछे के दरवाजे से उनके (दलित, एसटी, ओबीसी) अधिकार छीनने की साजिश रच रहे हैं? क्या आप यह पाप होने देंगे... क्या धर्म के आधार पर आरक्षण होना चाहिए?’ टीआरएस पर भाजपा की ‘बी’ टीम होने के कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के आरोप के संदर्भ में मोदी ने कहा कि तथ्य यह है कि केसीआर नीत पार्टी कांग्रेस की ‘बी’ टीम है। प्रधानमंत्री ने कहा कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव से पहले, ‘नामदार (राहुल गांधी) ने जेडीएस को भाजपा की ‘बी’ टीम कहा था लेकिन नतीजे घोषित होने के बाद, उन्होंने हाथ मिला लिया और सरकार बनाई।’

इसे भी पढ़ें: अमित शाह ने राहुल से पूछा, राजस्थान में कांग्रेस का सेनापति कौन है?



मोदी ने कहा कि तेलंगाना विधानसभा चुनाव लड़ रहे पांच राजनीतिक दलों में से केवल भाजपा लोकतांत्रिक ढंग से चलती है। उन्होंने आरोप लगाया कि तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस), तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा), ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहाद उल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) और कांग्रेस ने वंशवाद और परिवारवाद को बढावा दिया है। उन्होंने कहा, ‘वे लोकतंत्र के लिए खतरा बन रहे हैं।’ टीआरएस प्रमुख और कार्यवाहक मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, ‘किसी ने एक परिवार को लूटने का अधिकार नहीं दिया है।’ मोदी ने याद किया कि राव पहले युवा कांग्रेस में थे और उन्होंने पहला प्रशिक्षण तेदेपा में लिया था। मोदी ने कहा कि वह संप्रग-1 सरकार में मंत्री भी थे। उन्होंने कहा कि तेदेपा प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू और संप्रग प्रमुख सोनिया गांधी उनके ‘गुरू’ रहे हैं। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप