MEA के दो कर्मचारी कोविड-19 से संक्रमित, संपर्क में आए सभी कर्मचारियों को पृथक-वास में रहने के लिए कहा गया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 30, 2020   15:22
MEA के दो कर्मचारी कोविड-19 से संक्रमित, संपर्क में आए सभी कर्मचारियों को पृथक-वास में रहने के लिए कहा गया

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि विदेश मंत्रालय सरकार के स्वास्थ्य दिशा-निर्देशों के अनुसार अपने कर्मचारियों या परामर्शकों के बीच कोविड-19 के किसी भी मामले से निपटने के लिए पूरी तरह सक्रिय है।

नयी दिल्ली। विदेश मंत्रालय के दिल्ली स्थित मुख्यालय में काम कर रहे कम से कम दो कर्मचारी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं जिसके बाद उनके संपर्क में आए सभी कर्मचारियों को 14 दिन के पृथक-वास में रहने के लिए कहा गया है। इस मामले की जानकारी रखने वाले लोगों ने शनिवार को बताया कि मंत्रालय की विधि शाखा में कार्यरत एक अधिकारी और केंद्रीय यूरोप प्रभाग के एक परामर्शक के इस सप्ताह की शुरुआत में कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई। 

इसे भी पढ़ें: शिवराज सिंह चौहान ने डॉक्टरों को दिए निर्देश, कहा- MP में कोरोना से हुई हर मौत का किया जाए विश्लेषण 

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि विदेश मंत्रालय सरकार के स्वास्थ्य दिशा-निर्देशों के अनुसार अपने कर्मचारियों या परामर्शकों के बीच कोविड-19 के किसी भी मामले से निपटने के लिए पूरी तरह सक्रिय है। ऐसी जानकारी है कि विधि और केंद्रीय यूरोप (सीई) प्रभागों को संक्रमण मुक्त कराया गया है। सीई प्रभाग में लगभग सभी कर्मचारियों के साथ ही विधि शाखा में कई कर्मचारी पृथक-वास कर रहे हैं। संक्रमण के दो मामले आने के बाद विदेश मंत्रालय ने अपने सभी कर्मचारियों को संक्रमण के बारे में बताने के लिए दो आंतरिक पत्र भेजे और उन्हें तय दिशा-निर्देशों का पालन करने तथा एहतियाती कदम उठाने के लिए कहा है। 

विदेश मंत्रालय सरकार के वंदे भारत मिशन के अग्रिम मोर्चे पर रहा है जिसके तहत दुनिया के विभिन्न हिस्सों से 50,000 भारतीयों को लाया जा चुका है। उसकी 13 जून तक 1,00,000 और भारतीयों को लाने की कोशिश है। इस कवायद के मद्देनजर विदेश मंत्रालय के मुख्यालय में बड़ी संख्या में कर्मचारी काफी देर तक काम कर रहे हैं और अब संक्रमण के दो मामले सामने आने के बाद उन्हें सभी एहतियाती कदम उठाने की सलाह दी गई है।  

इसे भी पढ़ें: पश्चिम बंगाल के विश्वविद्यालयों में 30 जून तक कक्षाएं निलंबित रखने की सिफारिश 

 विदेश मंत्रालय का कोरोना वायरस नियंत्रण कक्ष 16 मार्च से चौबीसों घंटे काम कर रहा है। नियंत्रण कक्ष को 28 मई तक 22,500 से अधिक कॉल्स और 60,000 से अधिक ई-मेल आए हैं। पिछले कुछ दिनों में रायसीना हिल्स के आसपास स्थित विभिन्न मंत्रालयों में काम कर रहे कई कर्मचारी कोविड-19 से संक्रमित पाए गए हैं। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार भारत में शनिवार सुबह तक संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 1,73,763 थी जबकि 4,971 लोगों की मौत हुई।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...