अंडमान में कोविड-19 के तीन नए मामले, कुल मामले बढ़कर 4,991 हुए

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 21, 2021   10:50
  • Like
अंडमान में कोविड-19 के तीन नए मामले, कुल मामले बढ़कर 4,991 हुए

अंडमान में कोविड-19 के दो नए मामले सामने आए है। अधिकारी ने बताया कि पिछले 24 घंटे में संक्रमण से तीन और लोग स्वस्थ हुए हैं। उन्होंने बताया कि द्वीपसमूह में वर्तमान में 29 मरीजों का उपचार चल रहा है जबकि 4,900 लोग संक्रमण से उबर चुके हैं।

पोर्ट ब्लेयर।अंडमान निकोबार द्वीप समूह में कोविड-19 के दो नए मामले सामने आने से संक्रमितों की संख्या बृहस्पतिवार को बढ़कर 4,991 हो गयी। स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। अधिकारी ने बताया कि पिछले 24 घंटे में संक्रमण से तीन और लोग स्वस्थ हुए हैं। उन्होंने बताया कि द्वीपसमूह में वर्तमान में 29 मरीजों का उपचार चल रहा है जबकि 4,900 लोग संक्रमण से उबर चुके हैं।

इसे भी पढ़ें: पंजाब में बर्ड फ्लू का पहला मामला सामने आया, मृत बत्तख के नमूने संक्रमित मिले

संक्रमण से अब तक 62 लोगों की मौत हुई है। अधिकारी ने बताया कि प्रशासन ने कोविड-19 के लिए अब तक 2.08 लाख नमूनों की जांच की है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


मध्य प्रदेश के सतना में कट्टे की नोक पर पेट्रोल पंप पर लूट

  •  दिनेश शुक्ल
  •  फरवरी 25, 2021   22:19
  • Like
मध्य प्रदेश के सतना में कट्टे की नोक पर पेट्रोल पंप पर लूट

जानकारी मिलते ही पुलिस तत्काल मौके पर पहुंच गई और बदमाशों की तलाश में नाकेबंदी की, लेकिन उनका कहीं पता नहीं चल पाया। पूरी बारदात पेट्रोल-पम्प पर लगे सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गई। पुलिस सीसीटीवी फुटेज के आधार पर बदमाशों की तलाश में जुटी है।

सतना। मध्य प्रदेश में सतना जिले के कोलगवां थाना क्षेत्र अंतर्गत सतना-रीवा सड़क मार्ग पर बायपास के पास पेट्रोल पंप पर गुरुवार सुबह बाइक में सवार दो नकाबपोश बदमाशों ने कट्टे की नोक पर पेट्रोल पम्प के कर्मचारियों को लूट लिया। जनकारी के अनुसार बदमाश 84 हजार 950 रुपये लूटकर फरार हो गए। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और बदमाशों की तलाश शुरू कर दी है। 

 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में रात्रि कर्फ्यू को लेकर गृहमंत्री का बड़ा बयान, महाराष्ट्र से सटे 12 जिलों के लिए अलर्ट जारी

पुलिस के अनुसार, गुरुवार सुबह बाइक पर सवार होकर आए दो नकाबपोश बदमाशों ने बायपास रोड पर स्थित पेट्रोल पम्प पर कर्मचारियों से 84 हजार 950 रुपये लूट लिए और फरार हो गए। जानकारी मिलते ही पुलिस तत्काल मौके पर पहुंच गई और बदमाशों की तलाश में नाकेबंदी की, लेकिन उनका कहीं पता नहीं चल पाया। पूरी बारदात पेट्रोल-पम्प पर लगे सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गई। पुलिस सीसीटीवी फुटेज के आधार पर बदमाशों की तलाश में जुटी है। 

 

इसे भी पढ़ें: भाजपा विधायक ने अपनी ही सरकार को घेरा, गेंहू-खाद घोटाले पर किया मंत्री से सवाल

पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह यादव भी सूचना मिलते ही मौके पर पहुंच गए और कर्मचारियों से घटना की जानकारी ली। एसपी यादव ने बताया कि आरोपितों को पकड़ने के लिए पुलिस की टीमें गठित कर दी गई हैं। जल्द ही बदमाश पुलिस की गिरफ्त में होंगे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


मध्य प्रदेश में रात्रि कर्फ्यू को लेकर गृहमंत्री का बड़ा बयान, महाराष्ट्र से सटे 12 जिलों के लिए अलर्ट जारी

  •  दिनेश शुक्ल
  •  फरवरी 25, 2021   22:02
  • Like
मध्य प्रदेश में रात्रि कर्फ्यू को लेकर गृहमंत्री का बड़ा बयान, महाराष्ट्र से सटे 12 जिलों के लिए अलर्ट जारी

उन्होंने कहा है कि कोरोना के नए मामलों को देखते हुए नाइट कर्फ्यू का फैसला सरकार उन जिलों की क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी का विचार सामने आने के बाद निर्णय लेगी। मंत्री ने कहा कि प्रदेश में महाराष्ट्र से सटे 12 जिलों के लिए ही अलर्ट जारी किया गया है।

भोपाल। मध्य प्रदेश में एक बार फिर कोरोना के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है जिसको लेकर प्रदेश सरकार आने वाले दिनों में कड़े कदम उठाने पर विचार कर रही है। पिछले कुछ दिनों में प्रदेश में एकदम से कोरोना संक्रमितों की संख्या में बढ़ोत्तरी हुई है। जिसको लेकर शासन प्रशासन सतर्कता बरतने में लग गई है। इस बीच रात्रि कफ्यू लगाए जाने को लेकर प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने कहा है कि कोरोना के नए मामलों को देखते हुए नाइट कर्फ्यू का फैसला सरकार उन जिलों की क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी का विचार सामने आने के बाद निर्णय लेगी। मंत्री ने कहा कि प्रदेश में महाराष्ट्र से सटे 12 जिलों के लिए ही अलर्ट जारी किया गया है।

 

इसे भी पढ़ें: भाजपा विधायक ने अपनी ही सरकार को घेरा, गेंहू-खाद घोटाले पर किया मंत्री से सवाल

गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि नाइट कर्फ्यू के संबंध में शुक्रवार को बैठक में निर्णय किया जाएगा। इंदौर, भोपाल के अतिरिक्त सीमावर्ती 12 जिलों पर केन्द्रीत रहेगा। उन्होंने कहा कि थर्मल स्क्रीनिंग के निर्देश दे दिए गए हैं। प्रदेश की जनता का स्वास्थ्य पहली प्राथमिकता है। सरकार ने कोरोना के उपचार के लिए निजी और शासकीय अस्पतालों में मुफ्त उपचार  किए जाने की व्यवस्था की थी। फ्री फॉर ऑल कोरोना की गाइडलाइन का पालन करवाने में कोई भेदभाव नहीं किया जाएगा।वही विधायक और मंत्रीयों के मास्क लगाने पर उन्होंने कहा कि सभी माननीय है सभी को समान रुप से पालन करना होगा।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


भाजपा विधायक ने अपनी ही सरकार को घेरा, गेंहू-खाद घोटाले पर किया मंत्री से सवाल

  •  दिनेश शुक्ल
  •  फरवरी 25, 2021   21:46
  • Like
भाजपा विधायक ने अपनी ही सरकार को घेरा, गेंहू-खाद घोटाले पर किया मंत्री से सवाल

प्रदेश के सहकारिता मंत्री डॉ. अरविंद सिंह भदौरिया ने कहा कि इस मामले में चौकीदार की संलिप्तता भी सामने आई है। मंत्री ने कहा कि ट्रांसपोर्टर और चौकीदार ने मिलकर 4 करोड़ 63 लाख की हेराफेरी की है। इस मामले में आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाएगी।

भोपाल। मध्य प्रदेश विधानसभा के बजट सत्र के चौथे दिन गुरुवार को मंदसौर और नीमच में ट्रांसपोर्टर द्वारा गेंहू तथा खाद को सोसाइटी तक पहुंचाने में हेराफेरी का मामला उठा गया। मामला मंदसौर से बीजेपी विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया ने उठाया। उन्होंने अपनी ही पार्टी की सरकार से सवाल पूछे हुए सरकार को घेरने की कोशिश की हालंकि सहकारिता मंत्री ने मामले की जांच और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

 

इसे भी पढ़ें: राज्यसभा सांसद विवेक तंखा की मांग त्रिकटु काढ़े की सीएजी करे जाँच

मध्य प्रदेश विधानसभा के बजट सत्र के चौथे दिन गुरुवार को सदन की कार्यवाही प्रश्नकाल से शुरू हुई। इस दौरान भाजपा विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया ने सहकारिता मंत्री डॉ. अरविंद भदौरिया से प्रश्न किया कि 02 दिसम्बर 2020 को मंदसौर-नीमच जिलों में ट्रांसपोर्टर व्यवसायी द्वारा गेहूं ऊपार्जन और खाद को सोसाइटी तक पहुंचाने में हेराफेरी का प्रकरण विभाग के प्रकाश में आया है। क्या इसमें अनियमितता हुई है? उन्होंने आरोप लगाया कि वेयरहाउस में चौकीदार का बेटा ही ठेकेदार है जिसने यह हेराफेरी की है।

 

इसे भी पढ़ें: विश्व कप तलवारबाजी में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करेंगी मध्य प्रदेश की खुशी दाभाडे़

जिसके जबाब में प्रदेश के सहकारिता मंत्री डॉ. अरविंद सिंह भदौरिया ने कहा कि इस मामले में चौकीदार की संलिप्तता भी सामने आई है। मंत्री ने कहा कि ट्रांसपोर्टर और चौकीदार ने मिलकर 4 करोड़ 63 लाख की हेराफेरी की है। इस मामले में आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाएगी। इसके साथ ही को-ऑपरेटिव सोसायटी को इस संबंध में सहकारिता आयुक्त ने एफआईआर करने के लिए 15 फरवरी को एक पत्र भेज दिया है। मंत्री भदौरिया ने बताया कि आरोपितों से वसूली की कार्रवाई भी शुरू की जा रही है। इनके खिलाफ संपत्ति कुर्क करने की भी जानकारी की जाएगी। इसके लिए शासन स्तर पर एक जांच दल गठित किया जाएगा। यदि सोसायटी के महाप्रबंधक इसमें शामिल पाए जाते हैं तो उनको हटाकर 3 माह में जांच की जाएगी।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept