'चोर की पत्नी' वाले बयान पर उमा भारती की सफाई कहा- ईंट का जवाब कंकड़ से दिया

By रेनू तिवारी | Publish Date: Apr 17 2019 3:29PM
'चोर की पत्नी' वाले बयान पर उमा भारती की सफाई कहा- ईंट का जवाब कंकड़ से दिया
Image Source: Google

उमा भारती ने कहा जो कुछ भी मैंने बोला है वो केवल तथ्य हैं, रॉबर्ट वाड्रा पर भ्रष्टाचार के आरोप हैं तथा वो जमानत पर हैं। जमानत का मतलब होता है अपराध की अर्धस्वीकृति। जमानत का मतलब क्लीन चिट नहीं होता।

देश में लोकसभा चुनाव हैं और सभी पार्टियों के बीच चुनावी दंगल चल रहा है। नेता जुबान पर लागाम लगाना भूल गये है तो कुछ नीचता पर उतर आये हैं, फीमेल नेताओं ने एक दूसरे को सुनाने के लिए पतियों को चुनावी दंगल में खीच लिया है। लगातार जुबान पर बिना लागाम लगाए बयान बाजी जारी है... इसी दंगल में केंद्रीय जल संसाधन मंत्री उमा भारती भी कूद पड़ी हैं। उमा भारती के निशाने पर रही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी। उमा भारती ने अपने पहले बयान में प्रियंका गांधी पर जुबानी वार करते हुए कहा कि प्रियंका चोर की पत्नी हैं और हिन्दुस्तान उन्हें उसी नजर से देखेगा। इस बयान पर, जब बवाल बढ़ा तब उमा भारती को लगा की विवाद बढता जा रहा है तो अपने बयान पर सफाई दे दूं... फिर अपने लेटेस्ट ट्वीट में केंद्रीय जल संसाधन मंत्री उमा भारती ने सफाई देते हुए कहा 'मैंने जो कुछ भी कहा है वो तथ्यात्मक रूप से बिलकुल सही है और चुभने वाला भी है'।

इसे भी पढ़ें: उमा भारती के बिगड़े बोल, कहा- प्रियंका गांधी वाड्रा चोर की पत्नी

उमा भारती विवादित बयान देकर सारा ठिकरा मीडिया पर फोड़ दिया। उमा ने कहा कि मीडिया में उनके बयान को ‘बिगड़े बोल’ कह कर चला रहा हैं। उमा भारती ने कहा जो कुछ भी मैंने बोला है वो केवल तथ्य हैं, रॉबर्ट वाड्रा पर भ्रष्टाचार के आरोप हैं तथा वो जमानत पर हैं। जमानत का मतलब होता है अपराध की अर्धस्वीकृति। जमानत का मतलब क्लीन चिट नहीं होता। ऐसी स्थिति में उनकी पत्नी क्या कहलाएंगी, मैंने वही कहा है। उमा भारती ने रॉबर्ट वाड्रा पर बार करते हुए कहा कि वाड्रा की संपत्ति बेतहाशा इजाफा हुआ हैं ऐसे में क्या उनकी पत्नी प्रियंका को कुछ भी कैसे नहीं पता चला। 

इसे भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव नहीं लडेंगी उमा भारती, 18 माह तक करेंगी तीर्थयात्रा

उमा भारती ने कहा कि इस परिवार को यह सबक सीख लेना चाहिए कि वो भगवान के अवतार नहीं हैं और हम भारत के लोग इनकी प्रजा नहीं हैं। वो जैसा बोलेंगे, उन्हें वैसा सुनना पड़ेगा. मैंने ईंट का जवाब पत्थर से नहीं दिया, सिर्फ एक कंकड़ से दिया है जो कि सही निशाने पर लगा। इस तरह के इलाज की दोनों भाई-बहन को सख्त जरूरत है।
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video