UP कांग्रेस ने पीएफ घोटाले को लेकर ऊर्जा मंत्री पर साधा निशाना, श्रीकांत शर्मा ने आरोपों को निराधार बताया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 6, 2019   16:02
  • Like
UP कांग्रेस ने पीएफ घोटाले को लेकर ऊर्जा मंत्री पर साधा निशाना, श्रीकांत शर्मा ने आरोपों को निराधार बताया

उप्र कांग्रेस ने ट्वीट कर कहा, इस बात की भी जांच होनी चाहिए कि ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा सितंबर अक्टूबर 2017 में दुबई क्यों गये थे और वहां उनकी किन किन लोगों से मुलाकात हुई थी?

लखनऊ। उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने बिजली विभाग में कथित पीएफ घोटाले को लेकर बुधवार को राज्य के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा पर हमला बोला और कहा कि पीएफ की राशि डीएचएफएल में निवेश करने का मुद्दा केवल भ्रष्टाचार ही नहीं, बल्कि देश की सुरक्षा से भी जुड़ा है। ऊर्जा मंत्री को बताना चाहिए कि वह सितंबर-अक्टूबर 2017 में दुबई क्यों गए थे और किससे मिले थे? हालांकि शर्मा ने कहा कि कांग्रेस निराधार बात कर रही है। उप्र कांग्रेस ने ट्वीट कर कहा, इस बात की भी जांच होनी चाहिए कि ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा सितंबर अक्टूबर 2017 में दुबई क्यों गये थे और वहां उनकी किन किन लोगों से मुलाकात हुई थी? 

इस ट्वीट को कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय सिंह लल्लू ने री-ट्वीट किया।लल्लू ने आज अपने स्वयं के ट्वीट में कहा,  बिजली कर्मचारियों के पीएफ की राशि डीएचएफएल में निवेश करने का मुद्दा केवल भ्रष्टाचार ही नहीं, बल्कि देश की सुरक्षा से भी जुड़ा है। ऊर्जा मंत्री बताएं कि वह दुबई क्यों गए थे? किससे मिले थे? गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश पावर कॉर्पोरेशन के कर्मचारियों की भविष्यनिधि (पीएफ) के करीब 2,600 करोड़ रुपये का कथित तौर पर अनियमित तरीके से निजी संस्था डीएचएफएल में निवेश किए जाने का खुलासा हुआ है। सरकार ने मामले की सीबीआई जांच की सिफारिश की है। केंद्रीय एजेंसी के जांच अपने हाथ में लेने तक आर्थिक अपराध शाखा इसकी तफ्तीश कर रही है।इसके बाद से ऊर्जा मंत्री विपक्ष के निशाने पर आ गए हैं।दो दिन पहले कांग्रेस प्रवक्ता अशोक सिंह ने ट्वीट कर इस घोटाले को लेकर मंत्री को हटाने की मांग की थी।  उन्होंने कहा था कि उप्र पावर कार्पोरेशन में इतने बड़े घोटाले के बाद क्या मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ऊर्जा मंत्री को उनके पद से हटायेंगे। प्रदेश के ऊर्जा एवं अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत मंत्री श्रीकान्त शर्मा ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि  प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीमान लल्लू मीडिया में प्रसिद्धि के लिए बचकाने और मनगढ़ंत आरोपों पर उतर आए हैं।’’

इसे भी पढ़ें: EPF Scam मामले में UPPCL के पूर्व एमडी को गिरफ्तार कर लिया गया

उन्होंने कहा कि वह आज तक किसी विदेश दौरे पर गए ही नहीं हैं। किस आधार पर लल्लू ऐसा निराधार आरोप लगा रहे हैं। उन्हें लगता है कि अपने झूठ के दम पर वह चर्चा में आ जाएंगे। ऊर्जा मंत्री ने यह बात निजी कंपनी के खर्चे पर दुबई यात्रा करने के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के आरोप के जवाब में कही।  उन्होंने कहा कि उनके (लल्लू) नेता छुट्टियां मनाने विदेश आते-जाते रहते हैं। उन्हें हिसाब ही लगाना है तो राहुल गांधी के दौरों का लगाएं कि वह एसपीजी सुरक्षा वाले व्यक्ति होने के बाद भी बिना सुरक्षा गोपनीय तरीके विदेशी दौरों में क्या करते हैं। श्रीमान लल्लू अपनी घटिया राजनीति के चक्कर में सार्वजनिक जीवन की सारी मर्यादाएं लांघ रहे हैं। उन्हें इन बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए।  इसके पूर्व, मंगलवार को पीएफ घोटाला मामले में उत्तर प्रदेश पावर कॉर्पोरेशन के पूर्व प्रबंध निदेशक एपी मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया गया। मामले में सीपीएफ ट्रस्ट और जीपीएफ ट्रस्ट के तत्कालीन सचिव पीके गुप्ता और तत्कालीन निदेशक (वित्त) एवं सह ट्रस्टी सुधांशु द्विवेदी को शनिवार को ही गिरफ्तार कर लिया गया था।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept