UP सरकार ने आगरा मॉडल का झूठा प्रचार करके सच दबाने की कोशिश की: प्रियंका

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 22, 2020   18:20
UP सरकार ने आगरा मॉडल का झूठा प्रचार करके सच दबाने की कोशिश की: प्रियंका

सरकार की ‘जांच नहीं, कोरोना नहीं’ की नीति पर सवाल उठे थे, लेकिन सरकार ने उसका कोई जवाब नहीं दिया। अगर उप्र सरकार सच दबाकर कोरोना मामले में इसी तरह लगातार लापरवाही करती रही तो यह बहुत घातक होने वाला है।

नयी दिल्ली। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने उत्तर प्रदेश के आगरा में भर्ती होने के 48 घंटे के भीतर 28 कोरोना मरीजों की मौत से जुड़ी खबर को लेकर सोमवार को आरोप लगाया कि राज्य की भाजपा सरकार ने आगरा मॉडल का झूठा प्रचार करके सच दबाने की कोशिश की। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘आगरा में 48 घंटे में भर्ती हुए 28 कोरोना मरीजों की मृत्यु हो गई। उप्र सरकार के लिए कितनी शर्म की बात है कि इसी मॉडल का झूठा प्रचार करके सच दबाने की कोशिश की गई।’’

कांग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी ने दावा किया, ‘‘सरकार की ‘जांच नहीं, कोरोना नहीं’ की नीति पर सवाल उठे थे, लेकिन सरकार ने उसका कोई जवाब नहीं दिया। अगर उप्र सरकार सच दबाकर कोरोना मामले में इसी तरह लगातार लापरवाही करती रही तो यह बहुत घातक होने वाला है।’’ उन्होंने जिस खबर का हवाला दिया उसके मुताबिक आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज में कोरोना के इलाज के लिए भर्ती हुए 28 कोरोना मरीजों की एडमिट होने के 48 घंटे के भीतर ही मौत हो गयी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।