UP में कोरोना के 273 नए मामले, एक्टिव केसों की संख्या 2,606 हुई: अमित मोहन प्रसाद

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 25, 2020   16:46
UP में कोरोना के 273 नए मामले, एक्टिव केसों की संख्या 2,606 हुई: अमित मोहन प्रसाद

प्रमुख सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि पृथक वार्ड में 2711 लोग हैं, जिनका एल-1, एल-2 और एल-3 चिकित्सालयों एवं मेडिकल कालेजों में उपचार चल रहा है। पृथकवास केन्द्रों पर 10, 270 लोगों को रखा गया है।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटे के दौरान कोविड-19 संक्रमण के 273 नये मामले सामने आये। प्रमुख सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि 24 घंटे में 273 नये प्रकरण सामने आये हैं। प्रदेश में ऐसे मरीजों की संख्या 2606 है जिनका अभी इलाज चल रहा है और 3581 लोग पूर्णतया उपचारित होकर अस्पतालों से छुट्टी पा चुके हैं जबकि कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से 165 लोगों की जान गयी है। प्रसाद ने बताया कि पृथक वार्ड में 2711 लोग हैं, जिनका एल-1, एल-2 और एल-3 चिकित्सालयों एवं मेडिकल कालेजों में उपचार चल रहा है। पृथकवास केन्द्रों पर 10, 270 लोगों को रखा गया है। 

इसे भी पढ़ें: हिमाचल के हमीरपुर और सोलन में 30 जून तक बढ़ाया गया कोविड-19 कर्फ्यू 

उन्होंने बताया कि रविवार को 7314 नमूनों की जांच की गयी। कुल 936 पूल लगाये गये, जिनमें 736 पूल पांच पांच सैम्पल के और 200 पूल दस सैम्पल के थे। 736 पूल में से 110 पूल पाजिटिव निकले यानी 14 . 95 प्रतिशत लोग और 200 के पूल में 51 लोग पाजिटिव मिले जो 25.5 प्रतिशत होता है। प्रमुख सचिव ने कहा कि जब से प्रवासी कामगार और श्रमिक प्रदेश में लौट रहे हैं, पूल में भी पाजिटिव मामलों की संख्या बढ़ रही है, इसीलिए हम लोग बार बार कह रहे हैं कि जो भी प्रवासी कामगार आये हैं, वो अपने 21 दिन का घर पर पृथकवास अवश्य पूरा करें। समाज में संक्रमण रोकने के लिए यह अत्यंत आवश्यक है। 

इसे भी पढ़ें: कोविड-19 मुद्दे पर बोले निगम आयुक्त, शुरुआत में ही पहचान से नागपुर को मिली मदद 

उन्होंने बताया कि निगरानी का कार्य लगातार चल रहा है। हॉटस्पाट (संक्रमण से अधिक प्रभावित इलाके) और नॉन हॉटस्पाट वाले 11 हजार 920 इलाकों में सर्वेक्षण का कार्य हुआ। कुल 72 लाख 18 हजार 440 घरों में तीन करोड 62 लाख 29 हजार 716 लोगों का सर्वेक्षण किया गया। प्रसाद ने बताया कि आरोग्य सेतु ऐप का लगातार इस्तेमाल किया जा रहा है। आशा कार्यकर्ताओं ने आठ लाख 50 हजार 899 प्रवासी कामगारों का सर्वेक्षण किया, जिनमें से 892 कामगार लक्षणों वाले मिले। उनके नमूने लेकर जांच की जा रही है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।