इसरो के पूर्व प्रमुख का दावा, UPA सरकार ने चंद्रयान-2 भेजने में की देरी

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jun 12 2019 7:14PM
इसरो के पूर्व प्रमुख का दावा, UPA सरकार ने चंद्रयान-2 भेजने में की देरी
Image Source: Google

चंद्रयान-1 के मुख्य कर्ता धर्ता रहे नायर भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के प्रमुख और अंतरिक्ष विभाग में 2003 से 2009 तक सचिव के पद पर रहे थे और चंद्रयान-1, 22 अक्टूबर, 2008 में छोड़ा गया था।

हैदराबाद। इसरो के पूर्व प्रमुख जी माधवन नायर ने बुधवार को दावा किया कि चंद्रयान-2 मिशन पहले ही रवाना किया जा सकता था पर तत्कालीन संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार ने 2014 के लोकसभा चुनावों को देखते हुये ‘राजनीतिक कारणों’ से ‘मंगलयान’ परियोजना को आगे बढ़ा दिया। चंद्रयान-1 के मुख्य कर्ता धर्ता रहे नायर भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के प्रमुख और अंतरिक्ष विभाग में 2003 से 2009 तक सचिव के पद पर रहे थे और चंद्रयान-1, 22 अक्टूबर, 2008 में छोड़ा गया था।

इसे भी पढ़ें: चंद्रयान-2 अभियान की तैयारियां जोरो पर, 15 जुलाई को भेजा जाएगा GSLV मार्क-3

उन्होंने कहा कि चंद्रयान-2 को 2012 के अंत में रवाना किया जाना था। नायर बीते साल अक्ट्रबर में भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गये थे।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video