उत्तर प्रदेश के CM योगी आदित्यनाथ अयोध्या का दौरा करेंगे, राम मंदिर निर्माण कार्य का लेंगे जायजा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 28, 2020   10:59
उत्तर प्रदेश के CM योगी आदित्यनाथ अयोध्या का दौरा करेंगे, राम मंदिर निर्माण कार्य का लेंगे जायजा

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार दोपहर अयोध्या में राम जन्मभूमि स्थल का दौरा करेंगे और मंदिर निर्माण के लिए चल रहे कार्य का निरीक्षण करेंगे। अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री अयोध्या के विभिन्न हिस्सों में चल रहे विकास कार्यों की प्रगति का भी मुआयना करेंगे।

अयोध्या। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार दोपहर अयोध्या में राम जन्मभूमि स्थल का दौरा करेंगे और मंदिर निर्माण के लिए चल रहे कार्य का निरीक्षण करेंगे। अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री अयोध्या के विभिन्न हिस्सों में चल रहे विकास कार्यों की प्रगति का भी मुआयना करेंगे। जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने पीटीआई-से कहा, ‘‘मुख्यमंत्री रविवार दोपहर अयोध्या का दौरा करेंगे। वह गैर कोविड अस्पतालों के साथ ही अयोध्या के विभिन्न स्थानों पर चल रहे विभिन्न निर्माण कार्यों का निरीक्षण करेंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘वह अपने दौरे के दौरान राम जन्मभूमि स्थल तथा कुछ और मंदिरों में भी जाएंगे।’’

इसे भी पढ़ें: भाजपा विधायक देवमणि द्विवेदी कोरोना वायरस से संक्रमित, मेडिकल कालेज में भर्ती

अधिकारियों ने बताया कि कोविड-19 के कारण लागू लॉकडाउन के बाद आदित्यनाथ का राम जन्मभूमि स्थल का यह दूसरा दौरा होगा। मुख्यमंत्री हनुमान गढ़ी मंदिर भी जाएंगे। रामलला की मूर्ति को नए अस्थायी स्थल पर स्थानांतरित किए जाने के समय उन्होंने 25 मार्च को यहां का दौरा किया था। मुख्यमंत्री ने राम मंदिर निर्माण के लिए निजी तौर पर 11 लाख रुपये का दान भी दिया है। आदित्यनाथ विमान से पौने बारह बजे के करीब अयोध्या पहुंचेंगे और दौरे के बाद लखनऊ के लिए रवाना हो जाएंगे। यहां भाजपा नेताओं से भी उनकी मुलाकात की संभावना है।

इसे भी पढ़ें: UP के रोजगार अभियान पर प्रियंका गांधी ने उठाए सवाल, कहा- क्या सिर्फ प्रचार से मिलेगा रोजगार ?





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।