गुजरात में कांग्रेस के पोस्टरों में वाघेला की तस्वीर नहीं

गुजरात में कांग्रेस के विभिन्न धड़ों के बीच ‘‘पोस्टर युद्ध’’ समाप्त होने का नाम नहीं ले रहा है। विवादों में एक और कड़ी उन होर्डिंगों की है जो गुजरात प्रभारी अशोक गहलोत के स्वागत में लगाए गए हैं।

अहमदाबाद। चुनावी प्रदेश गुजरात में कांग्रेस के विभिन्न धड़ों के बीच ‘‘पोस्टर युद्ध’’ समाप्त होने का नाम नहीं ले रहा है। विवादों में एक और कड़ी उन होर्डिंगों की है जो गुजरात प्रभारी अशोक गहलोत के स्वागत में लगाए गए हैं। इन होर्डिंगों में वरिष्ठ नेता शंकरसिंह वाघेला की तस्वीर नहीं है। शहर में विभिन्न स्थानों पर लगाए गए इन होर्डिंगों में गहलोत तथा राज्य कांग्रेस के अध्यक्ष भरतसिंह सोलंकी की तस्वीरें हैं।

इसी महीने वडोदरा में ऐसे होर्डिंग लगाए गए थे जिनमें नेता प्रतिपक्ष वाघेला को मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के तौर पर पेश किया गया था। वाघेला अभी देश से बाहर हैं। उस समय उन्होंने स्पष्टीकरण दिया था कि वह राज्य के शीर्ष पद की होड़ में नहीं हैं। गहलोत ने पोस्टर मामले को तवज्जो नहीं देने का प्रयास किया और जोर दिया कि पार्टी में कोई गुटबाजी नहीं है। उन्होंने कहा, ‘‘..ऐसे पोस्टर लगते रहते हैं और अगर हम उनके बारे में चिंता करने लगे तो ज्यादा जरूरी काम कैसे कर पाएंगे।’’ गहलोत ने कहा, ‘‘वाघेला हमारे वरिष्ठ नेता हैं, हमारे नेता प्रतिपक्ष, और मैं लगातार उनके संपर्क में हूं, जब वह विदेश में हैं, तब भी। जब वह यहां आएंगे तो मैं उनसे मुलाकात करूंगा।’’ गहलोत बुधवार को यहां पहुंचे और सर्किट हाउस में पार्टी नेताओं से मुलाकात की।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़