विजय रूपाणी का दावा, गुजरात उपचुनाव के बाद कांग्रेस के कई और नेता पार्टी छोड़ देंगे

Vijay Rupani
रूपाणी ने कहा कि पूर्व में भी कांग्रेस के कई विधायक पार्टी छोड़ चुके हैं। उन्होंने कहा कि 2017 में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शंकरसिंह वाघेला ने 13 अन्य विधायकों के साथ पार्टी छोड़ दी थी। इसके अगले साल छह और विधायकों तथा अब आठ विधायकों ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया।
अहमदबाद। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने सोमवार को दावा किया कि कांग्रेस एक ‘डूबता जहाज’ है और राज्य में आठ सीटों के लिए तीन नवंबर को उपचुनाव के बाद विपक्षी दल के कई नेता पार्टी छोड़ देंगे। वलसाड जिले के कपराडा नगर में भाजपा उम्मीदवार जीतू चौधरी के समर्थन में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए रूपाणी ने कहा कि कांग्रेस के आठ विधायकों के इस्तीफे के कारण इन सीटों पर उपचुनाव हो रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘देश भर में कांग्रेस को झटका लग रहा है। यह एक डूबता जहाज है। ताबूत में आखिरी कील ठोकने का समय आ गया है।’’ उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं को अपनी पार्टी के नेतृत्व में जरा भी भरोसा नहीं है। मुख्यमंत्री ने दावा किया, ‘‘राहुल गांधी की नेतृत्व क्षमता पर भी सवाल उठे हैं। पार्टी (कांग्रेस) के कार्यकर्ता वंशवादी नेतृत्व से आजादी का प्रयास कर रहे हैं। पार्टी के कार्यकर्ता अब भी नाखुश हैं और इस उपचनुाव के बाद कई नेता पार्टी छोड़ देंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘विधायकों को एहसास हो चुका है कि कांग्रेस में रहते हुए लोगों के कार्य करना कठिन हैं क्योंकि पार्टी केवल एक परिवार को खुश रखने में भरोसा रखती है। जीतूभाई (चौधरी) अपने निर्वाचन क्षेत्र की बेहतरी के लिए भाजपा में शामिल हुए।’’ 

इसे भी पढ़ें: PM मोदी बोले, कृषि क्षेत्र को मजबूत बनाने के लिये कदम उठा रही है सरकार

रूपाणी ने कहा कि पूर्व में भी कांग्रेस के कई विधायक पार्टी छोड़ चुके हैं। उन्होंने कहा कि 2017 में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शंकरसिंह वाघेला ने 13 अन्य विधायकों के साथ पार्टी छोड़ दी थी। इसके अगले साल छह और विधायकों तथा अब आठ विधायकों ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया। जीतू चौधरी कपराडा सीट से भाजपा के उम्मीदवार हैं। इस साल जून में राज्यसभा चुनाव के पहले कांग्रेस के आठ विधायकों ने पार्टी छोड़ दी थी, जिसके बाद इन सीटों पर उपचुनाव हो रहा है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़