VVIP हेलीकाप्टर सौदा घोटाला: ED ने गौतम खेतान की पत्नी के खाते को कुर्क किया

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 3 2019 5:46PM
VVIP हेलीकाप्टर सौदा घोटाला: ED ने गौतम खेतान की पत्नी के खाते को कुर्क किया
Image Source: Google

गौतम अपनी पत्नी के साथ 3,600 करोड़ रुपये के अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकाप्टर सौदा में भ्रष्टाचार मामले में मुख्य आरोपी हैं।ईडी एक अलग पीएमएलए मामले में इसकी जांच कर रहा है। रितु इस मामले में आरोपी है। एजेंसी ने एक बयान में कहा कि रितु की विदेश में संपत्ति, कंपनी तथा खाते में लाभकारी हित तथा मालिकाना हक है और उसे आयकर विभाग के पास जमा अपने रिटर्न में इसकी जानकारी नहीं दी।

नयी दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बुधवार को कहा कि उसने वीवीआईपी हेलीकाप्टर सौदा घोटाला मामले में आरोपी गौतम खेतान की पत्नी के बैंकों में जमा 7.49 लाख रुपये कुर्क किये हैं। दंपति के खिलाफ मनी लांड्रिंग मामले की जांच के संदर्भ में यह राशि कुर्क की गयी है। केंद्रीय एजेंसी ने कहा कि उसने मनी लांड्रिंग निरोधक कानून (पीएमएलए) के तहत कोष कुर्क करने के लिये अस्थायी आदेश जारी किया है। यह राशि आईसीआईसीआई बैंक की कनाट प्लेस शाखा में रखी हुई थी। ईडी ने इस मामले में जनवरी में दिल्ली के वकील और कारोबारी गौतम खेतान को गिरफ्तार किया था। कालाधन (अघोषित विदेशी आय और संपत्ति) तथा कर कानून का अधिरोपण, 2015 के तहत आयकर विभाग की शिकायत पर ताजा आपराधिक मामला दर्ज करने के बाद प्रवर्तन निदेशालय ने यह कदम उठाया था।

इसे भी पढ़ें: उच्चतम न्यायालय ने TDS के खिलाफ दूरसंचार विभाग की अर्जी को खारिज किया

गौतम अपनी पत्नी के साथ 3,600 करोड़ रुपये के अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकाप्टर सौदा में भ्रष्टाचार मामले में मुख्य आरोपी हैं।ईडी एक अलग पीएमएलए मामले में इसकी जांच कर रहा है। रितु इस मामले में आरोपी है। एजेंसी ने एक बयान में कहा कि रितु की विदेश में संपत्ति, कंपनी तथा खाते में लाभकारी हित तथा मालिकाना हक है और उसे आयकर विभाग के पास जमा अपने रिटर्न में इसकी जानकारी नहीं दी। ईडी ने कहा, ‘‘उसे विभिन्न व्यक्तिगत तथा सिंगापुर तथा मारीशस में उन कंपनियों के बैंक खातों में धन शोधन में शामिल पाया गया जहां उसके लाभकारी हित जुड़े हैं।’’जांच एजेंसी के अनुसार रितु ने विदेशी बैंक खातों तथा अपने स्वामित्व वाले कंपनियों के बारे में जानबूझकर खुलासा नहीं किया।’’
ईडी के अनुसार रितु ने अपने नाम पर, अपनी कंपनियों के नाम तथा अपने ससुर और पति के साथ संयुक्त खाते विदेशों में खोल रखे थे। ये खाते बार्कलेज बैंक, सिंगापुर तथा बैंक आफ सिंगापुर में थे। एजेंसी के अनुसार, ‘‘सिंगापुर में बैंकों से अनुरोध पत्र के जरिये दस्तावेज प्राप्त किये गये हैं। विदेशी बैंक खातों के विश्लेषण के बाद यह पता चला कि उन खातों से धन यहां भेजे गये। इससे पहले, एजेंसी ने गौतम की दिल्ली, हरियाणा और उत्तराखंड में 8.45 करोड़ रुपये मूल्य की संपत्ति कुर्क की थी।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video