ऑनलाइन परीक्षा की मांग को लेकर एनएसयूआई कार्यकर्ताओं का जल सत्याग्रह

ऑनलाइन परीक्षा की मांग को लेकर एनएसयूआई कार्यकर्ताओं का जल सत्याग्रह

प्रदेश में बढ़ते कोरोना के मामलों को लेकर एनएसयूआई ऑनलाइन परीक्षा कराने की मांग कर रही है। जिसके बाद भी सरकार ऑफलाइन परीक्षा करने पर अड़ी हुई है। इसे लेकर एनएसयूआई प्रदेश में कई दिनों से लगातार प्रदर्शन कर रही है।

भोपाल। मध्य प्रदेश में ऑनलाइन परीक्षा की मांग को लेकर एनएसयूआई कार्यकर्ता पूरे प्रदेश में प्रदर्शन कर रहे हैं। शनिवार को एनएसयूआई ने जल सत्याग्रह किया है। कार्यकर्ताओं में नर्मदा नदी के ग्वारीघाट में ‘जल सत्याग्रह’ किया। एनएसयूआई कार्यकर्ता ने कहा कि सरकार छात्रों को कोरोना किट न समझे और ओपन बुक के माध्यम या फिर ऑनलाइन परीक्षा ली जाए। 

दरअसल प्रदेश में बढ़ते कोरोना के मामलों को लेकर एनएसयूआई ऑनलाइन परीक्षा कराने की मांग कर रही है। जिसके बाद भी सरकार ऑफलाइन परीक्षा करने पर अड़ी हुई है। इसे लेकर एनएसयूआई प्रदेश में कई दिनों से लगातार प्रदर्शन कर रही है। यहां तक की पिछले दिनों जबलपुर, राजधानी भोपाल और ग्वालियर में बड़ा प्रदर्शन किया था।

इसे भी पढ़ें:कमलनाथ को CM शिवराज से मुलाकात का मिला फल, दिग्विजय सिंह पर दर्ज हुई एफआईआर 

आपको बता दें कि मध्य प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच मौतों का सिलसिला जारी है। प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 5 कोरोना मरीजों की मौत हुई है। ग्वालियर में 5 और सागर में 12 महीने की बच्ची की मौत हुई है। शुक्रवार को 11274 कोविड पॉजिटिव मिले। एक्टिव केस की संख्या 61 हजार के पार चली गई है।

इंदौर कोरोना का हॉट स्पॉट केंद्र बना हुआ है। बीते 24 घंटे में कोरोना के 3169 नए मामले सामने आए हैं। शुक्रवार को 11795 सैम्पल्स की जांच की गई, जिसमें 10220 सैम्पल्स की जांच आरटीपीसीआर और 1924 जांचे रेपिड एंटीजन से की गई। जिनमें से 20340 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...