पश्चिम बंगाल: केंद्रीय सशस्त्र बलों की 10 कंपनियां शुक्रवार को राज्य पहुंचेंगी

west-bengal-10-companies-of-central-armed-forces-to-reach-state-on-friday
अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी संजय बसु ने मंगलवार को कहा कि सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) की 10 कंपनियां कुछ ‘संवेदनशील क्षेत्रों’ में तैनात की जाएंगी, ताकि मतदाताओं में विश्वास भरा जा सके।

कोलकाता। केंद्रीय अर्द्धसैनिक बल (सीपीएफ) की कम से कम 10 कंपनियां 11 अप्रैल से शुरू हो रहे लोकसभा चुनाव से पहले 15 मार्च तक पश्चिम बंगाल पहुंचेंगी। अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी संजय बसु ने मंगलवार को कहा कि सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) की 10 कंपनियां कुछ ‘संवेदनशील क्षेत्रों’ में तैनात की जाएंगी, ताकि मतदाताओं में विश्वास भरा जा सके।

इसे भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव भाजपा के ‘ताबूत में आखिरी कील’ साबित होंगे: ममता बनर्जी

उन्होंने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि वे रूट मार्च निकालेंगे। बसु ने कहा कि संवेदनशील क्षेत्रों का आकलन किया जा रहा है। संवेदनशील क्षेत्रों का निर्णय अतीत में हुई हिंसा की घटनाओं समेत कई कारकों के आधार पर किया जाता है। लोकसभा चुनाव 11 अप्रैल से देश में कराए जाएंगे और पश्चिम बंगाल में सभी सात चरणों में मतदान कराए जाएंगे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़