तृणमूल और भाजपा समर्थकों के बीच संघर्ष जारी, रेलवे स्टेशन के बाहर बम फेंका

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 21 2019 6:33PM
तृणमूल और भाजपा समर्थकों के बीच संघर्ष जारी, रेलवे स्टेशन के बाहर बम फेंका
Image Source: Google

जाम सुबह साढ़े आठ बजे से दोपहर 12 बजकर चार मिनट तक जारी रहा। इसकी वजह से लोकल और एक्सप्रेस ट्रेनें फंसी रहीं और कुछ ट्रेनों को रद्द भी करना पड़ा।

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के भाटपाड़ा में तृणमूल और भाजपा समर्थकों के बीच जारी संघर्ष के चलते कनकिनारा में प्रदर्शनकारियों द्वारा रेलमार्ग बाधित किए जाने से पूर्वी रेलवे के सियालदह खंड पर रेलसेवाएं मंगलवार को दूसरे दिन भी प्रभावित रही। भाटपाड़ा विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में रविवार को वोट पड़े। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि इलाके में निषेधाज्ञा लागू होने के बावजूद अज्ञात व्यक्तियों ने कनकिनारा रेलवे स्टेशन के बाहर देसी बम फेंका, हालांकि घटना में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। घबराये यात्रियों और स्थानीय लोगों को भागकर जान बचाते देखा गया, क्योंकि हथियारबंद बदमाश पूरे इलाके में घूम रहे थे। पूर्वी रेलवे के प्रवक्ता ने बताया कि रेलमार्ग जाम होने की वजह से सैकड़ों लोगों को मंगलवार सुबह परेशानी हुई। जाम सुबह साढ़े आठ बजे से दोपहर 12 बजकर चार मिनट तक जारी रहा। इसकी वजह से लोकल और एक्सप्रेस ट्रेनें फंसी रहीं और कुछ ट्रेनों को रद्द भी करना पड़ा।

इसे भी पढ़ें: माकपा ने पश्चिम बंगाल की एक सीट पर फिर से हो मतदान की मांग की

भाटपाड़ा को पूर्व तृणमूल विधायक अर्जुन सिंह का गढ़ माना जाता है। रविवार को उपचुनाव के दौरान यह क्षेत्र जंग के मैदान में तब्दील हो गया। विधानसभा क्षेत्र के कनकिनारा में भाजपा एवं तृणमूल कार्यकर्ता कथित रूप से आपस में भिड़ गये। ऐसी खबर है कि बम भी फेंके गये और सत्तारूढ़ तृणमूल के एक कार्यालय को आग लगा दी गयी। स्थिति को नियंत्रण में लाने के लिये केंद्रीय बलों ने लाठीचार्ज किया। हिंसा में 14 लोग घायल हो गये और कई दुकानें एवं घर क्षतिग्रस्त हो गये। हालत बिगड़ते देख निर्वाचन आयोग ने सोमवार को भाटपाड़ा में सीआरपीसी की धारा 144 लगा दी।

इसे भी पढ़ें: तृणमूल कांग्रेस ने केंद्रीय सुरक्षा बलों पर वोटरों को धमकाने का आरोप लगाया

बैरकपुर पुलिस आयुक्तालय के उपायुक्त (जोन I) के. कन्नन ने कहा कि भाटपाड़ा में रविवार से जारी हिंसा में कथित रूप से लिप्तता के लिये अब तक 70 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पश्चिम बंगाल में चुनाव पश्चात संभावित हिंसा के मद्देनजर 27 मई तक केंद्रीय बलों की करीब 200 कंपनियों को तैनात रखा गया है। विधायक पद से इस्तीफा देकर अर्जुन सिंह के तृणमूल से भाजपा में शामिल होने के कारण उत्तर 24 परगना जिले के भाटपाड़ा में उपचुनाव कराया गया। बैरकपुर से लोकसभा चुनाव लड़ने के लिये सिंह ने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया था। भाजपा ने उपचुनाव में तृणमूल के मदन मित्रा के खिलाफ सिंह के बेटे पवन कुमार सिंह को चुनाव मैदान में उतारा है।


रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video