WFI अध्यक्ष का इस्तीफे से इंकार, खिलाड़ियों को प्रधानमंत्री से इंसाफ की उम्मीद

Wrestlers Protest
प्रतिरूप फोटो
ANI
अंकित जायसवाल । Jan 20, 2023 10:37AM
मंत्रालय खिलाड़ियों की मांग पर कमेटी बनाने को तैयार है, लेकिन कमेटी बनाने के इस कदम से खिलाड़ी खुश नहीं है। पहलवानों ने इंसाफ मिलने तक धरना जारी रखने को कहा है। इसी बीच अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने इस्तीफा देने से इंकार कर दिया है।

धरने पर बैठे पहलवानों और WFI अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के बीच की तकरार कम होती नहीं दिख रही है। ताजा खबरों के मुताबिक, कुश्ती संघ दोपहर तक खेल मंत्रालय को अपना जवाब सौपेगा। मंत्रालय खिलाड़ियों की मांग पर कमेटी बनाने को तैयार है, लेकिन कमेटी बनाने के इस कदम से खिलाड़ी खुश नहीं है। पहलवानों ने इंसाफ मिलने तक धरना जारी रखने को कहा है। इसी बीच अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने इस्तीफा देने से इंकार कर दिया है। बृजभूषण शरण ने 4 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई है।

बता दें कि खेल मंत्रालय ने इस मामले को गंभीरता से लिया है। खेल मंत्री अनुराग ठाकुर आज पहलवानों से मुलाकात करेंगे। इससे पहले पहलवानों ने गुरुवार को अनुराग ठाकुर से मुलाकात की और उनके साथ डिनर किया था। पहलवानों और खेल मंत्री के बीच ये बैठक 10 बजे से करीब पौने दो बजे तक चली। हालांकि आज फिर से खेल मंत्री और खिलाड़ियों के बीच बैठक होगी। 

इसे भी पढ़ें: Uttar Pradesh: दुष्कर्म मामले में भाजपा विधायक रामदुलार के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी

क्या है मामला?

भारतीय पहलवान विनेश फोगाट, बजरंग पुनिया, साक्षी मलिक समेत 30 पहलवानों ने बुधवार को कुश्ती महासंघ और उसके अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ मोर्चा खोला और विरोध-प्रदर्शन शुरू किया है। धरने पर बैठे खिलाड़ियों का कहना था कि महिला पहलवानों के साथ यौन शोषण किया जाता है। उन्हें मानसिक रूप से परेशान किया जा रहा है। पहलवानों का दावा है कि कुश्ती महासंघ नियमों के नाम पर रेसलर्स का उत्पीड़न कर रहा है। वहीं, आरोपों पर बृजभूषण शरण सिंह ने सफाई दी और कहा कि अगर आरोप सही साबित हुए तो मैं फांसी पर लटकने के लिए तैयार हूं। 

अन्य न्यूज़