• विवाटेक के 5वें संस्करण में बोले PM मोदी, जहां कन्वेंशन विफल हो जाता है, वहां इनोवेशन काम आता है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को विवाटेक के 5वें संस्करण में कहा कि भारत के युवाओं ने दुनिया की कुछ सबसे गंभीर समस्याओं का तकनीकी समाधान दिया है। आज भारत में 1.18 बिलियन मोबाइल फोन और 775 मिलियन इंटरनेट उपयोगकर्ता हैं।

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को विवाटेक के 5वें संस्करण को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि भारत और फ्रांस कई विषयों पर साथ काम कर रहे हैं। इनमें से प्रौद्योगिकी और डिजिटल सहयोग के उभरते क्षेत्र हैं। मेरा मानना है कि जहां कन्वेंशन विफल हो जाता है, वहां इनोवेशन काम आता है। 

इसे भी पढ़ें: क्या है 'गहरे समुद्र मिशन' जिसे मोदी सरकार ने दी है मंजूरी ? 

उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी ने हमारे कई पारंपरिक तरीकों को परखा है। हालांकि, इनोवेशन हमारे बचाव में आया। जहां परंपराएं असफल होते हैं, वहां इनोवेशन काम में आता है। इनोवेशन से मेरा मतलब महामारी के पहले और महामारी के दौरान से है।

उन्होंने कहा कि आधार ने महामारी के दौरान लोगों को समय पर मदद पहुंचाने में मदद की, लोगों को मुफ्त राशन, खाना पकाने के लिए ईंधन दिया गया। पीएम मोदी ने कहा कि कोविड के दो टीके भारत में बनाए गए हैं, कुछ और टीको के विकास एवं परीक्षण का काम चल रहा है।

उन्होंने कहा कि भारत वह प्रदान करता है जो नवप्रवर्तनकर्ताओं और निवेशकों को चाहिए। मैं प्रतिभा, बाजार, पूंजी, परिवेश और खुलेपन की संस्कृति। इन पांच स्तंभों के आधार पर दुनिया को भारत में निवेश करने के लिए आमंत्रित करता हूं। 

इसे भी पढ़ें: क्यों भारत का ‘एस्पिरेशनल डिस्ट्रिक्ट’ कार्यक्रम विश्व के लिए है विकास का मॉडल 

पीएम मोदी ने कहा कि भारत के युवाओं ने दुनिया की कुछ सबसे गंभीर समस्याओं का तकनीकी समाधान दिया है। आज भारत में 1.18 बिलियन मोबाइल फोन और 775 मिलियन इंटरनेट उपयोगकर्ता हैं। विश्व में सबसे अधिक और सबसे सस्ता डेटा खपत करने वाले देशों में भारत एक है। भारतीय सोशल मीडिया के सबसे बड़े उपयोगकर्ता हैं। एक विविध और व्यापक बाजार है जो आपकी प्रतीक्षा कर रहा है।