वायुसेना दिवस पर बोले IAF प्रमुख, बाहरी ताकतों को नहीं करने देंगे हमारे क्षेत्र का उल्लंघन

वायुसेना दिवस पर बोले IAF प्रमुख, बाहरी ताकतों को नहीं करने देंगे हमारे क्षेत्र का उल्लंघन

89वां स्थापना दिवस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए वायुसेना प्रमुख ने कहा कि जब मैं सुरक्षा परिदृश्य को देखता हूं जिसका आज हम सामना कर रहे हैं तो मैं पूरी तरह से सचेत हूं कि मैंने एक महत्वपूर्ण समय पर कमान संभाली है।

नयी दिल्ली। वायुसेना दिवस पर गाज़ियाबाद के हिंडन एयरबेस पर कार्यक्रम का आयोजन हुआ। इस अवसर पर वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल विवेक राम चौधरी, नौसेना प्रमुख करमबीर सिंह, सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत समेत तमाम पदाधिकारी मौजूद रहे। 

इसे भी पढ़ें: सशस्त्र सेनाओं के बीच समन्वय के विचार पर प्रतिबद्ध है वायुसेना : एयर चीफ मार्शल 

89वां स्थापना दिवस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए वायुसेना प्रमुख ने कहा कि जब मैं सुरक्षा परिदृश्य को देखता हूं जिसका आज हम सामना कर रहे हैं तो मैं पूरी तरह से सचेत हूं कि मैंने एक महत्वपूर्ण समय पर कमान संभाली है। हमें राष्ट्र को बताना चाहिए कि बाहरी ताकतों को हमारे क्षेत्र का उल्लंघन नहीं करने दिया जाएगा।

विमानों ने दिखाया करतब

आपको बता दें कि गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस पर वायुसेना के विमानों ने करतब दिखाया। वायुसेना प्रमुख ने कहा कि नीले रंग की पोशाक में पुरुष और महिलाएं जो आज देश की सेवा कर रहे हैं वो वीरता, बलिदान और अग्रणी भावना की विरासत के गौरवशाली संरक्षक हैं। 

इसे भी पढ़ें: राफेल, अपाचे के शामिल होने से हमारी युद्ध क्षमता में काफी इजाफा हुआ, वायुसेना प्रमुख का बयान 

उन्होंने कहा कि कमांडरों के एक महान वंश के उत्तराधिकारी के रूप में आपके सामने खड़ा होना मेरे लिए बहुत सम्मान की बात है। इस बीच उन्होंने कहा कि पूर्व वायुसेना प्रमुखों का उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि मैं आप सभी को स्पष्ट निर्देश, अच्छा नेतृत्व और सर्वोत्तम संसाधन प्रदान करने के लिए हरसंभव प्रयास करने का वचन देता हूं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।