पंजाब के डिप्टी CM ने कहा, अमरिंदर की पाक मित्र के ISI से संबंध हैं या नहीं, इसकी जांच होगी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अक्टूबर 23, 2021   10:37
पंजाब के डिप्टी CM ने कहा, अमरिंदर की पाक मित्र के ISI से संबंध हैं या नहीं, इसकी जांच होगी

पंजाब के उप मुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने कहा कि, अमरिंदर की पाकिस्तानी मित्र के आईएसआई से संबंध हैं या नहीं, इसकी जांच की जाएगी।सिंह ने कहा कि आलम केंद्र की अनुमति के बाद पिछले 16 वर्षों से भारत की यात्रा कर रही थीं।

चंडीगढ़।पंजाब के उप मुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा का कहना है कि इस बात की जांच की जाएगी कि क्या पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से पिछले कई वर्षों से मुलाकात करती रहीं पाकिस्तानी पत्रकार अरुसा आलम के पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई से संबंध हैं या नहीं। इस पर सिंह ने कांग्रेस नेता पर पलटवार कर कहा कि रंधावा अब निजी हमले करने का प्रयास कर रहे हैं। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बात की जांच की जाएगी कि क्या आलम के आईएसआई के साथ किसी भी तरह के संबंध हैं या नहीं और पुलिस महानिदेशक को इस मामले को देखने को कहा गया है। सिंह ने कहा कि आलम केंद्र की अनुमति के बाद पिछले 16 वर्षों से भारत की यात्रा कर रही थीं।

इसे भी पढ़ें: अमित शाह की यात्रा से पहले पूरे कश्मीर में बढ़ाई गई सुरक्षा, BJP कार्यालय के चारों ओर कड़ी सुरक्षा

पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के मीडिया सलाहकार ने सिंह के हवाले से ट्वीट कर कहा, सुखजिंदर आप मेरी कैबिनेट में मंत्री थे। तब कभी भी आपसे अरुसा आलम को लेकर शिकायत करते नहीं सुना। आलम केंद्र की अनुमति लेकर पिछले 16 साल से भारत की यात्रा कर रही थीं। क्या आप ये आरोप लगा रहे हैं कि इस अवधि में केंद्र में राजग और कांग्रेस नीत यूपीए दोनों ही सरकारों की पाकिस्तानी आईएसआई से मिलीभगत रही? रंधावा ने दावा किया कि सिंह की लंबे समय से आलम के साथ मित्रता रही है और वह कई वर्षों तक भारत में रहीं और केंद्र सरकार ने समय-समय पर उनके वीजा को बढ़ाया। रंधावा ने बृहस्पतिवार को जालंधर में संवाददाताओं से कहा कि पंजाब प्रदेश कांग्रेस में हुए हालिया घटनाक्रम के मद्देनजर सिंह के पद से हटने के बाद आलम वापस पाकिस्तान चली गईं। उन्होंने कहा, अरुसा लगभग साढ़े चार साल भारत में रहीं और समय-समय पर उनका वीजा बढ़ाया गया।

इसे भी पढ़ें: महिला डायरी में लिखती थी हत्या करने वालों का नाम, 4 को उतारा मौत के घाट

दिल्ली ने उनका वीजा रद्द क्यों नहीं किया? जब हम अमरिंदर सिंह के खिलाफ गए, तब वह भारत छोड़कर क्यों चली गईं? उप मुख्यमंत्री ने कहा, मुझे लगता है कि इन सभी चीजों की जांच किए जाने की जरूरत है और कैप्टन अमरिंदर सिंह को भी इन सवालों के जवाब देने होंगे। इस पर पलटवार करते हुए सिंह ने कहा, सुखजिंदर रंधावा, तो अब आप निजी हमले कर रहे हैं। एक महीने पदभार संभालने के बाद अब आपके पास यही सब है लोगों को दिखाने के लिए।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...