• डायन महंगाई ने आम आदमी का बिगड़ दिया बजट, सिर्फ भाजपा की आय में हुई बढ़ोतरी: सुरजेवाला

रणदीप सुरजेवाला ने दावा किया, ‘‘महंगाई डायन की तरह बढ़ती जा रही है। सब्जी के दाम बेतहाशा बढ़ गए हैं कि वह लोगों की पहुंच से बाहर हो गयी है। अब तो ऐसा लगता है कि शाकाहारी होना पाप हो गया है। गरीब आदमी की जिंदगी बहुत मुश्किल हो गयी है।

नयी दिल्ली। कांग्रेस ने खुदरा मुद्रास्फीति की दर के 7.35 फीसदी तक पहुंच जाने को लेकर मंगलवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर तीखा हमला बोला और कहा कि इस मामले पर प्रधानमंत्री जवाब दें तथा सर्वदलीय बैठक बुलाकर मंहगाई कम करने की रूपरेखा बताएं।पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने आरोप लगाया कि ‘शासन नहीं विभाजन’ भाजपा का नया नारा बन गया है।उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘मोदी सरकार ने महंगाई और बेरोजगारी के रूप में देश को दो बड़े धोखे दिए हैं। खाने पीने की वस्तुएं महंगी हो गयी हैं । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कहते थे अबकी बार महंगाई पर वार , अब वह चुप बैठे हैं।’’

इसे भी पढ़ें: संयुक्त राष्ट्र ने 2020 का बजट तय किया, युद्ध अपराधों की जांच के लिए धनराशि का प्रावधान

उन्होंने दावा किया, ‘‘महंगाई डायन की तरह बढ़ती जा रही है। सब्जी के दाम बेतहाशा बढ़ गए हैं कि वह लोगों की पहुंच से बाहर हो गयी है। अब तो ऐसा लगता है कि शाकाहारी होना पाप हो गया है। गरीब आदमी की जिंदगी बहुत मुश्किल हो गयी है। देश की गृहणियों के लिए और भी मुश्किल हो गयी है।’’ कांग्रेस नेता ने यह भी कहा कि पिछले एक साल में 50 लाख नौकरियां चली गयी है। सुरजेवाला ने आरोप लगाया, ‘‘डायन महंगाई ने आम आदमी का बजट बिगड़ दिया है। सिर्फ भाजपा की आय में 1450 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। 

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान को हो रहा है पछतावा, भारत से व्यापार रद्द होने पर बढ़ी महंगाई

उन्होंने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री शासन नहीं, अब विभाजन कर रहे हैं। भाजपा का नारा शासन नहीं, विभाजन है।’’सुरजेवाला ने कहा, ‘‘ प्रधानमंत्री तत्काल विपक्षी दलों की बैठक बुलायें और देश को विश्वास में लें। वह बताएं कि 30 दिन में महंगाई कम करने की रूपरेखा क्या है।’’गौरतलब है कि खुदरा मुद्रास्फीति की दर दिसंबर, 2019 में जोरदार तेजी के साथ 7.35 प्रतिशत के स्तर पर पहुंच गई है। यह भारतीय रिजर्व बैंक के संतोषजनक स्तर से कहीं अधिक है। खाद्य वस्तुओं की कीमतों में तेजी की वजह से खुदरा मुद्रास्फीति में उछाल आया है।