परिवर्तन यात्रा का मकसद देश और प्रदेश में परिवर्तन लाना: गुलाम नबी आजाद

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 28, 2019   09:23
परिवर्तन यात्रा का मकसद देश और प्रदेश में परिवर्तन लाना: गुलाम नबी आजाद

कांग्रेस महासचिव व पार्टी के हरियाणा प्रभारी गुलाम नबी आजाद के नेतृत्व में कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा में शामिल कांग्रेसी नेता आज पूरी तरह से एकजुटता का संदेश देने में कामयाब रहे।

भिवानी। कांग्रेस महासचिव व पार्टी के हरियाणा प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने बुधवार को कहा कि परिवर्तन यात्रा का मकसद देश और प्रदेश में परिवर्तन लाना है और लोगों तक भाजपा के कथित कुशासन की पोल खोलना है। हरियाणा में कांग्रेस की परिवर्तन बस यात्रा के दूसरे दिन आजाद ने अपनी पार्टी के केंद्र की सत्ता में आने पर गरीब परिवारों को 72 हजार रुपये सालाना देने के वादे पर आम जनता से कहा कि कांग्रेस देश के लोगों की जरूरत को समझती है और इसीलिए भाजपा की तरह 15 लाख देने का झूठा वादा नहीं करती है।

इसे भी पढ़ें: CWC की बैठक में पहुंचे राहुल समेत दिग्गज नेता, घोषणापत्र को दिया जाएगा अंतिम रूप

उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार बनने पर जिस तरह से पहले कांग्रेस ने आम जनता,गरीब,मजदूर के हित में फैसले लिए है,उसी प्रकार से 72000 रूपये सालाना देने के फैसले से देश के 5 करोड़ परिवार और 25 करोड़ लोगों को लाभ पहुंचाने का काम किया जाएगा। हरियाणा में कांग्रेस की परिवर्तन बस यात्रा दूसरे दिन बुधवार को भिवानी-महेंद्रगढ़ संसदीय क्षेत्र के नारनौल, नांगल सिरोही, महेन्द्रगढ़,अकोड़ा, आदमपुर डाढ़ी चौक, चरखी दादरी और भिवानी में पहुंची। जगह-जगह लोगों ने यात्रा का स्वागत किया। 

इसे भी पढ़ें: राजनीतिक एजेंडे के लिए मनमानी व्याख्या करना मोदी की आदत: अशोक गहलोत

प्रदेश कांग्रेस प्रभारी आजाद के नेतृत्व में कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा में शामिल कांग्रेसी नेता आज पूरी तरह से एकजुटता का संदेश देने में कामयाब रहे। मंच पर भूपेंद्र सिंह हुड्डा, किरण चौधरी, अशोक तंवर, कुमारी शैलजा सभी ने एक सुर में कांग्रेस की एकता की बात की।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।