भाजपा नेत्री का विवादित बयान, शाम 5 बजे के बाद थाने न जाएं महिलाएं

भाजपा नेत्री का विवादित बयान, शाम 5 बजे के बाद थाने न जाएं महिलाएं

उत्तराखंड की पूर्व राज्यपाल और भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बेबी रानी के विवादास्पद बयान से पार्टी की किरकिरी हो रही है,वहीं विपक्ष का दावा है कि जब सत्तारूढ़ दल के नेता ही ऐसी बात कर रहे हैं तो सच्चाई समझी जा सकती है।

उत्तराखंड की पूर्व राज्यपाल और भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बेबी रानी मौर्य ने वाराणसी में एक कार्यक्रम में कहा कि महिलाएं शाम 5 बजे के बाद थाने ना जाएं। बेबी रानी मौर्य वाराणसी में भाजपा के वाल्मीकि महोत्सव के तहत मलिन बस्ती में महिलाओं को संबोधित कर रही थीं। इस दौरान उन्होंने महिलाओं को शाम 5 बजे के थाने ना जाने की सलाह दी।

इसे भी पढ़ें: नोएडा हवाई अड्डे और फिल्म सिटी के बीच संचालित होने वाली भारत की पहली पॉड टैक्सी

बेबी रानी के विवादास्पद बयान से पार्टी की किरकिरी हो रही है,वहीं विपक्ष का दावा है कि जब सत्तारूढ़ दल के नेता ही ऐसी बात कर रहे हैं तो सच्चाई समझी जा सकती है। यह सब तब हो रहा है जबकि उत्तर प्रदेश में आगामी 2022 के विधानसभा चुनाव को लेकर योगी सरकार प्रदेश को अपराध मुक्त करने वाली छवि बनाने में जुटी है तो वहीं दूसरी ओर उन्हीं की पार्टी के दिग्गज नेता भरे मंच से महिलाओं की सुरक्षा के सवाल पर लड़कियों को शाम को बाहर न निकलने की नसीहत दे रहे हैं। इतना ही नहीं बेबी रानी ने किसानों को खाद नहीं मिलने पर भी अपनी बेबसी जाहिर की।

इसे भी पढ़ें: सुल्तानपुर में योगी आदित्यनाथ ने विकास परियोजनाओं का किया उद्घाटन और शिलान्यास, कांग्रेस सरकार पर साधा निशाना

बेबी रानी मौर्य ने कहा कि  थाने में महिला अधिकारी और सब इंस्पेक्टर जरूर बैठती हैं, लेकिन एक बात मैं जरूर कहूंगी कि 5 बजे के बाद और अंधेरा होने के बाद थाने कभी मत जाना। फिर अगले दिन सुबह जाना और अगर जरूरी हो तो अपने साथ अपने भाई, पति या पिता को लेकर ही थाने जाना। बेबी रानी मौर्य यहीं नहीं रुकीं और यूपी में किसानों को खाद न मिलने की बात एक उदाहरण देते हुए कह डाली। उन्होंने बताया कि अधिकारी सभी को गुमराह करते रहते हैं।बेबी रानी ने कहा हाल ही में आगरा से एक किसान भाई का फोन आया था कि  उसे खाद नहीं मिल रही है, मैंने कहा तो उसे खाद मिल गई, लेकिन आज अधिकारी ने मना कर दिया कि मैं नहीं दूंगा। इस तरह की बदमाशी निचले स्तर पर होती है। बेबी रानी ने वहां मौजूद लोगों से कहा इसे आप लोगों को देखने की जरूरत है। अगर कोई भी अधिकारी बदमाशी कर रहा है तो उसकी शिकायत डीएम से करो, प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री को लिखकर दो।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।