Instagram पर लड़की को दिया मॉडल बनाने का झांसा, तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल करने की दी धमकी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 12, 2021   12:13
Instagram पर लड़की को दिया मॉडल बनाने का झांसा, तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल करने की दी धमकी

इंस्टाग्राम पर ठगने के आरोप में पड़ोसी महाराष्ट्र के पुणे के 24 वर्षीय व्यक्ति को शुक्रवार को गिरफ्तार किया गया है।पुलिस अधीक्षक ने बताया कि शेट्टी के खिलाफ सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम के संबद्ध प्रावधानों के तहत मामला दर्ज कर विस्तृत जांच की जा रही है।

इंदौर। मध्यप्रदेश पुलिस के साइबर दस्ते ने पेशेवर मॉडल बनने की चाह रखने वाली युवतियों को इंस्टाग्राम पर ठगने के आरोप में पड़ोसी महाराष्ट्र के पुणे के 24 वर्षीय व्यक्ति को शुक्रवार को गिरफ्तार किया। साइबर दस्ते की इंदौर इकाई के पुलिस अधीक्षक जितेंद्र सिंह ने बताया कि इंदौर की एक युवती की शिकायत पर जांच के बाद पुणे के विग्नेश शेट्टी (24) को गिरफ्तार किया गया। उन्होंने बताया, ‘‘शेट्टी इंस्टाग्राम पर मॉडलिंग की एक फर्जी फर्म के नाम से खाता चला रहा है। वह इसके जरिये उन युवतियों से अलग-अलग मुद्राओं में खींची गईं उनकी तस्वीरें (पोर्टफोलियो) मंगाता है जो पेशेवर मॉडल बनने की चाह रखती हैं।’’

इसे भी पढ़ें: विधानसभा चुनावों से पहले कृषि कानूनों के विरोध से जुड़ा मुद्दा सुलझने के आसार बढ़े

सिंह ने जांच के हवाले से बताया कि इन युवतियों को मॉडलिंग का काम दिलाने का झांसा देकर शेट्टी उनसे पंजीयन के नाम पर 500-500 रुपये वसूलता है और जो युवती उसे ऑनलाइन रकम भेज देती है, वह उसे इंस्टाग्राम पर तुरंत ब्लॉक कर देता है। उन्होंने बताया, मॉडलिंग का काम न मिलने पर अगर कोई युवती शेट्टी से किसी तरह संपर्क कर रकम लौटाने को कहती, तो वह कम कपड़ों में खिंचवाई गई उसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी देता था। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि शेट्टी के खिलाफ सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम के संबद्ध प्रावधानों के तहत मामला दर्ज कर विस्तृत जांच की जा रही है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।