योगी हुए सख्त, कहा- अपराध और भ्रष्टाचार के मामलों में हो तेजी से कार्रवाई

yogi-stern-said-fast-action-in-cases-of-crime-and-corruption
योगी ने कहा कि प्रदेश में कानून का राज सरकार की प्राथमिकता है। मुख्यमंत्री यहां लोक भवन में प्रदेश में अपराध नियंत्रण और कानून-व्यवस्था के सम्बन्ध में गृह विभाग के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कानून-व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त रखने, अपराधों और भ्रष्टाचार के मामलों में तेजी से कार्रवाई करते हुए दोषियों को दण्डित करने के बृहस्पतिवार को कड़े निर्देश दिए। योगी ने कहा कि अपराध और भ्रष्टाचार के मामलों में वर्तमान राज्य सरकार की नीति कतई सहन नहीं करने की है।  उन्होंने पुलिस को अपराध नियंत्रण और कानून व्यवस्था को दुरुस्त रखने में आधुनिक तकनीक का प्रयोग करते हुए आम जन के साथ सहयोग, मानवीय और संवेदनशील दृष्टिकोण अपनाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था में सुधार आंकड़ों के आधार पर नहीं, बल्कि आम जन में सुरक्षा के एहसास के आधार पर तय किया जाना चाहिए। 

योगी ने कहा कि प्रदेश में कानून का राज सरकार की प्राथमिकता है। मुख्यमंत्री यहां लोक भवन में प्रदेश में अपराध नियंत्रण और कानून-व्यवस्था के सम्बन्ध में गृह विभाग के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने बालिकाओं तथा महिलाओं के प्रति अपराध को सख्ती से रोके जाने और अपराधियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई किए जाने के भी निर्देश देते हुए कहा कि इस सम्बन्ध में एक माह के अंदर कार्य योजना बनाकर और सख्ती अपनायी जाए। गम्भीर अपराधों और बालिकाओं/महिलाओं के प्रति घटित अपराधों में सख्त कार्रवाई करते हुए ऐसे मामलों को त्वरित अदालत के माध्यम से अपराधी को शीघ्र सजा दिलवायी जाए। 

इसे भी पढ़ें: दुनियाभर में मनाया जा रहा योग दिवस, मोदी बोले- धर्म और जाति से ऊपर है योग

मुख्यमंत्री ने कहा कि महिला एवं नाबालिग बच्चों के साथ होने वाले अपराधों को पुलिस अपनी संवेदनशीलता, सक्रियता एवं सजगता से रोक सकती है। उन्होंने कहा कि जो पुलिसकर्मी अपराधियों से संलिप्त हैं, उन्हें चिन्हित कर कार्रवाई की जाए। यह कार्रवाई सभी स्तर पर हो। योगी ने कहा कि राज्य सरकार बालिकाओं/महिलाओं की सुरक्षा को लेकर संवेदनशील है। महिलाओं के प्रति अपराध पर नियंत्रण के लिए ‘एण्टी रोमियो स्क्वॉयड’ को निरन्तर प्रभावी कार्रवाई करनी चाहिए। 

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़