सपा-कांग्रेस पर योगी का निशाना, जब सत्ता थी तब कहते थे राम तो काल्पनिक हैं, आज कहते हैं राम तो सबके हैं

सपा-कांग्रेस पर योगी का निशाना, जब सत्ता थी तब कहते थे राम तो काल्पनिक हैं, आज कहते हैं राम तो सबके हैं

योगी ने कहा कि पहले की सरकारों के लिए परिवार ही प्रदेश होता था। परिवार के बाहर दृष्टि ही नहीं थी। लेकिन हमारे लिए तो प्रदेश ही परिवार है। इसलिए ये 334 करोड़ रुपये की परियोजनाएं दीपावली से पहले आप सभी को उपहार स्वरूप देने के लिए आया हूं।

उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा के चुनाव होने हैं। भाजपा इसके लिए अपनी तैयारी शुरू कर चुकी है मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की उत्तर प्रदेश में लगातार विभिन्न जिलों का दौरा कर रहे हैं और अलग-अलग परियोजनाओं का शिलान्यास तथा लोकार्पण भी कर रहे हैं। इसी कड़ी में आज वह विभिन्न जिलों के दौरे पर थे जहां उन्होंने कांग्रेस और समाजवादी पार्टी पर जमकर निशाना साधा है। राम मंदिर के बहाने उन्होंने कांग्रेस और समाजवादी पार्टी पर जमकर प्रहार किया। योगी ने कहा कि 2005-2014 जब केंद्र में उनकी सत्ता थी तब ये कहते थे कि राम तो काल्पनिक हैं। जब अयोध्या में राम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण का काम शुरू हुआ तो कहते हैं राम तो सबके हैं, कितनी जल्दी पलटी मारते हैं। अगर सपा की, कांग्रेस की सरकार होती तो क्या राम मंदिर बन पाता?

योगी ने कहा कि पहले की सरकारों के लिए परिवार ही प्रदेश होता था। परिवार के बाहर दृष्टि ही नहीं थी। लेकिन हमारे लिए तो प्रदेश ही परिवार है। इसलिए ये 334 करोड़ रुपये की परियोजनाएं दीपावली से पहले आप सभी को उपहार स्वरूप देने के लिए आया हूं। आज किसी गरीब की संपत्ति पर, किसी व्यापारी की संपत्ति पर, कोई माफिया या कोई पेशेवर अपराधी जबरन कब्जा करने का दुस्साहस नहीं कर सकता। और अगर करेगा तो सरकार का बुलडोजर भी खड़ा रहता है। उन्होंने कहा कि 2017 के पहले कोई पर्व और त्यौहार आप शांति से नहीं मना सकते थे। कर्फ्यू लग जाता था। 

इसे भी पढ़ें: सुल्तानपुर में योगी आदित्यनाथ ने विकास परियोजनाओं का किया उद्घाटन और शिलान्यास, कांग्रेस सरकार पर साधा निशाना

योगी ने कहा कि पहले भारत में 2004 से लेकर 2014 तक किस प्रकार की सरकारें थीं, उनका एक ही उद्देश्य होता था। जैसे भी हो भारत की आस्था पर प्रहार करना। जैसे भी हो, भारत के विकास को बाधित करना, और फिर यही क्रम उनका बढ़ता गया। योगी ने लोगों से कहा कि याद रखना, जो श्रीराम का द्रोही होगा वो आपका हितैषी कभी नहीं हो सकता। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।