Prabhasakshi
सोमवार, जून 25 2018 | समय 07:35 Hrs(IST)

उद्योग जगत

अमेरिकी प्रशासन के शुल्क में वृद्धि के मुद्दे को उठाएगा भारत: प्रभु

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Mar 13 2018 7:59PM

अमेरिकी प्रशासन के शुल्क में वृद्धि के मुद्दे को उठाएगा भारत: प्रभु
Image Source: Google

नयी दिल्ली। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा है कि भारत इस्पात और एल्युमीनियम पर आयात शुल्क बढ़ाने के मुद्दे को अमेरिकी सरकार के समक्ष उठाएगा। अमेरिकी प्रशासन ने दोनों पर आयात शुल्क बढ़ाने का निर्णय किया है। ट्रम्प प्रशासन ने पिछले सप्ताह इस्पात और एल्युमीनियम पर आयात शुल्क बढ़ाकर क्रमश: 25 प्रतिशत और10 प्रतिशत करने की घोषणा की। इससे वैश्विक स्तर पर व्यापार युद्ध की आशंका बढ़ी है। प्रभु ने कहा, ‘‘यह कदम दुर्भाग्यपूर्ण है और मैं इस मुद्दे को अमेरिका के वाणिज्य मंत्री के समक्ष रखूंगा और मैं निश्चित रूप से बहुपक्षीय व्यापार मंच के साथ- साथ द्विपक्षीय व्यापार मंच के साथ मिलकर काम करने की आवश्यकता के बारे में विस्तार से बताने की कोशिश करूंगा।’’ मंत्रालय शुल्क में वृद्धि के प्रभाव का आकलन कर रहा है। भारत लगभग1.3 अरब डालर मूल्य के इन वस्तुओं का निर्यात करता है।

 
अमेरिकी सरकार द्वारा शुल्क में वृद्धि से इन उत्पादों का अमेरिकी बाजार में निर्यात महंगा होगा और घरेलू वस्तुओं की प्रतिस्पर्धा क्षमता प्रभावित हो सकती है। उल्लेखनीय है कि रेटिंग एजेंसी एस एंड पी ने कहा है कि इस निर्णय से यूरोपीय संघ तथा चीन जवाबी कार्रवाई कर सकते हैं और व्यापार युद् शुरू हो सकता है। इससे वैश्विक आर्थिक वृद्धि प्रभावित होगी। यह मुद्दा विश्व व्यापार संगठन( डब्ल्यूटीओ) की लघु मंत्री स्तरीय बैठक में कुछ भागीदार देशों द्वारा उठाये जाने की संभावना है। यह बैठक भारत ने बुलायी है जो 19-20 मार्च को होगी।
 
अमेरिका तथा चीन बैठक के लिये अपने राजनीतिक प्रतिनिधियों को भेजेंगे। प्रभु ने कहा कि बैठक के पीछे विचार एक माहौल बनाना है ताकि वैश्विक व्यापार और बहुपक्षीय व्यापार प्रणाली के आसपास जो एक नकारात्मक फैली है, उसे कम किया जा सके और खुले व्यापार से सभी देशों को लाभ होना चाहिए।
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप


शेयर करें: