Prabhasakshi
शुक्रवार, सितम्बर 21 2018 | समय 11:03 Hrs(IST)

क्रिकेट

धोनी की अर्धशतकीय पारी बेकार, KXIP ने CSK को 4 रन से हराया

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 16 2018 9:29AM

धोनी की अर्धशतकीय पारी बेकार, KXIP ने CSK को 4  रन से हराया
Image Source: Google

मोहाली। सलामी बल्लेबाज क्रिस गेल की अर्धशतकीय पारी से किंग्स इलेवन पंजाब ने यहां इंडियन प्रीमियर लीग टी20 मैच में चेन्नई सुपरकिंग्स को चार रन से शिकस्त देकर दूसरी जीत दर्ज की। विस्फोटक बल्लेबाज गेल ने फ्रेंचाइजी के लिये पदार्पण करते हुए 63 रन की तेज तर्रार पारी खेली और लोकेश राहुल के साथ पहले विकेट के लिये उनकी 96 रन की भागीदारी से किंग्स इलेवन पंजाब ने सात विकेट पर 197 रन बनाये। पिछले दो मैचों में लगातार जीत दर्ज करने वाली चेन्नई सुपरकिंग्स की टीम कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की 79 रन की नाबाद जुझारू पारी के बावजूद 20 ओवर में पांच विकेट पर 193 रन ही बना सकी।

धोनी को पीठ में दर्द के कारण बल्लेबाजी में परेशानी हो रही थी, लेकिन वह क्रीज पर डटे रहने के बावजूद अपनी टीम की नैया पार नहीं करा सके। उन्होंने 44 गेंद का सामना करते अपनी पारी में छह चौके और पांच छक्के जड़े। अंतिम पांच ओवर में चेन्नई सुपरकिंग्स को जीत के लिये 76 रन की दरकार थी जो धोनी की परेशानी को देखते हुए असंभव ही दिख रहा था। 18वें और 19वें ओवर में 19-19 रन जोड़ने के बावजूद उन्हें अंतिम छह गेंद में 17 रन चाहिए थे जिसमें वह 12 रन ही बना सके।

चेन्नई के लिये अम्बाती रायुडू ने 49 रन की पारी खेली, लेकिन मेजबान टीम के कप्तान आर अश्विन (32 रन देकर एक विकेट) ने शानदार क्षेत्ररक्षण का नजारा पेश करते हुए स्ट्राइर छोर पर सीधे स्टंप हिट से उन्हें रन आउट किया। उन्होंने 35 गेंद में पांच चौके और एक छक्का लगाया। सलामी बल्लेबाज शेन वाटसन (11) और मुरली विजय (12) के विकेट जल्दी गंवाने के बाद सैम बिलिंग्स को अश्विन ने पगबाधा आउट किया। बिलिंग्स (09) ने अश्विन की गेंद पर स्वीप शाट खेलने की कोशिश की लेकिन यह बाउंड्री पार कर गयी जिससे मैदानी अंपायर ने चौके का इशारा किया लेकिन अश्विन उनके पगबाधा आउट होने के पूरे आश्वस्त थे, उन्होंने रिव्यू लेने का फैसला किया जो किंग्स इलेवन पंजाब के हक में रहा। इस तरह चेन्नई ने 56 रन पर तीसरा विकेट गंवा दिया। 

इसके बाद धोनी और रायुडू ने चौथे विकेट के लिये 57 रन जोड़कर टीम को संभाला। लेकिन रायुडू के रन आउट होने से उनकी उम्मीदों को करारा झटका लगा। रविंद्र जडेजा (19 रन) ने कप्तान का साथ निभाने का भरसक प्रयत्न किया लेकिन वह एंड्रयू टाई (47 रन देकर दो विकेट) का शिकार बने। धोनी ने अंत में शानदार शाट लगाकर दर्शकों के लिये यह मुकाबला दिलचस्प बना दिया लेकिन वह टीम को जीत तक नहीं पहुंचा सके। यह टीम की तीन मैचों में पहली हार है। इससे पहले गेल ने 33 गेंद का सामना करते हुए अपनी पारी में सात चौके और चार छक्के जड़े तथा राहुल (37 रन, 22 गेंद और सात चौके) के साथ आठ ओवर में 96 रन जुटाये। 

चौथे ओवर में इन दोनों ने हरभजन सिंह (41 रन देकर एक विकेट) की गेंदों को पीटते हुए एक छक्के और दो चौके से 19 रन जोड़े।  अगले ओवर में दोनों ने शार्दुल ठाकुर के ओवर में तीन चौके जड़कर 14 रन बनाये। लेकिन छठा ओवर गेल के नाम रहा जिन्होंने दो छक्के और दो चौके से इसमें 22 रन जोड़े। इस तरह किंग्स इलेवन पंजाब ने पावरप्ले में 75 रन से इस सत्र में सर्वश्रेष्ठ स्कोर बनाया। इमरान ताहिर (34 रन देकर दो विकेट) गेंदबाजी के लिये उतरे, जिनकी पहली गेंद को राहुल ने चौके के लिये पहुंचाया। चौथी गेंद पर गेल ने चौका लगाकर 22 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया जिसमें सात चौके और तीन छक्के शामिल थे। 

अंतिम गेंद को फिर वेस्टइंडीज के इस धुरंधर ने छक्के के लिये पहुंचाया जिससे इस ओवर में भी 17 रन जुड़े। राहुल अगले ओवर में हरभजन की गेंद पर ड्वेन ब्रावो को कैच देकर आउट हुए जिससे इस भागीदारी का अंत हुआ। मयंक अग्रवाल क्रीज पर उतरे। घरेलू टीम नौंवे ओवर में 100 रन पूरे कर चुकी थी। गेल और मयंक दूसरे विकेट के लिये 31 रन ही जोड़ सके थे कि शेन वाटसन ने इस साझेदारी को तोड़ दिया। गेल उनकी गेंद पर शार्ट फाइन लेग में इमरान ताहिर को आसान कैच देकर आउट हुए।

युवराज सिंह और मयंक ने मिलकर तीसरे विकेट के लिये 22 रन का इजाफा किया। 15वें ओवर की पहली गेंद पर मयंक (30 रन, 19 गेंद में एक चौका और दो छक्के) ताहिर का पहला शिकार हुए और अगली गेंद पर आरोन फिंच आते ही चलते बने। शार्दुल ठाकुर (तीन ओवर में 33 रन देकर दो विकेट) ने अगले ओवर में युवराज का विकेट झटका जिन्होंने उनकी गेंद पर बल्ला छुआ दिया और विकेटकीपर धोनी ने इसे लपकने में जरा देर नहीं की। युवराज ने 13 गेंद में दो चौके और एक छक्के से 20 रन बनाये। 

करूण नायर (29 रन, 17 गेंद में दो चौके और एक छक्के) और कप्तान आर अश्विन ने कुछ अच्छे शाट लगाये तथा छठे विकेट के लिये 33 रन की भागीदारी कर स्कोर में इजाफा किया। पर शार्दुल की गेंद पंजाब के कप्तान के बल्ले को छूती हुई धोनी के हाथों में समां गयी। उन्होंने 11 गेंद में एक छक्के से 14 रन बनाये। इससे पिछली गेंद पर उन्होंने डीप फाइनल लेग पर छक्का जमाया था। ब्रावो ने नायर के रूप में एकमात्र विकेट झटका।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप



Disclaimer: The views expressed here are solely those of the author in his/her private capacity and do not necessarily reflect the opinions, beliefs and viewpoints of Prabhasakshi and do not in any way represent the views of Prabhasakshi.

शेयर करें: