Prabhasakshi
रविवार, अप्रैल 22 2018 | समय 07:59 Hrs(IST)

कहानी/कविता/रुचिकर बातें

दुनिया की पहली रोबोट नागरिक बनी 'सोफिया'

By अमृता गोस्वामी | Publish Date: Dec 20 2017 12:12PM

दुनिया की पहली रोबोट नागरिक बनी 'सोफिया'
Image Source: Google

आज के तकनीकी युग में रोबोट्स इंसानों की तरह ही हर कार्य में बढ़-चढ़ कर अपनी भूमिका निभा रहे हैं। आपको जानकर आश्चर्य होगा कि रोबोट्स अब इतना इंसानी हो चुके हैं कि इन्हें देश की नागरिकता भी मिलने लगी है। हाल ही में ‘सोफिया’ नाम की रोबोट को सऊदी अरब ने अपने देश की नागरिकता प्रदान की है, सिटिजनशिप पाने वाली यह दुनिया की पहली रोबोट नागरिक है।

स्वयं को सिटिजनशिप मिलने के मौके पर रोबोट सोफिया ने सभी लोगों का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि इस गौरव को पाकर वह काफी सम्मानित महसूस कर रही है। पहली बार रोबोट को सिटिजनशिप से पहचाना जाना ऐतिहासिक है। वह लोगों के बीच भरोसा बढ़ाने का काम करेगी।
 
आपको बता दें कि रोबोट सोफिया को हांगकांग की कंपनी हैंसन रोबोटिक्स ने बनाया है। यह इंसानों की तरह बर्ताव करने वाली मोस्ट ह्यूमनॉयड रोबोट है जो न सिर्फ चेहरे पर आने वाले एक्सप्रेशंस अच्छी तरह पहचान सकती है बल्कि किसी के भी साथ सामान्य तरीके से बातचीत भी कर सकती है। सोफिया में इंसान की तरह ही अलग-अलग इमोशंस देखे जा सकते हैं। इसकी आंखें इंसानों की तरह ही तेज या धीमी रोशनी के हिसाब से बदलती हैं। जगहों को यह आसानी से पहचान सकती है।
 
रोबोट ‘सोफिया’ हाल ही में सऊदी अरब के रियाद में संपन्न हुए एक टेक्नोलॉजी कॉन्फ्रेंस में देश की एक स्मार्ट महिला नागरिक बनकर स्टेज पर पहुंची और यहां लोगों से रूबरू हुई। सोफिया ने रियाद में हुए फ्यूचर इन्वेस्टमेंट इनिशियेटिव समिट में देश में मॉर्डनाइजेशन और आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस के लिए इन्वेस्टमेंट बढ़ाने पर हुई चर्चा में बतौर स्पीकर हिस्सा लिया।
 
समिट में सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने कहा कि देश को मॉडर्न बनाने के प्लान के साथ वे लिबरल इस्लाम की वापसी चाहते हैं और रोबोट सोफिया इंसानों के बीच उन्हीं की तरह रहने के लिए बनाई गई है।
 
रोबोट सोफिया हॉलीवुड अभिनेत्री आड्री हेपबर्न की तरह दिखती है। इसकी त्वचा पोर्सिलेन से बनाई गई है। इसके चेहरे पर पतली नाक, मजबूत गाल और दिलचस्प मुस्कुराहट है। टॉक शो में यह रोबोट ‘रॉक, पेपर, सीजर’ गेम जीत चुकी है और कई मीडिया चैनलों को इंटरव्यू देकर दे चुकी है। अपने एक इंटरव्यू में सोफिया ने कहा कि मूल्यों के आधार वह खुद को संवेदनशील बनाने का प्रयास करेगी।   
 
व्यापार, बैंकिंग, बीमा, ऑटो विनिर्माण, संपत्ति विकास, मीडिया और मनोरंजन जैसे उद्योगों में प्रमुख निर्णय निर्माताओं के साथ आमने-सामने मुलाकात में सोफिया अपनी क्षमता दिखा चुकी है।
 
इस रोबोट को देश की नागरिकता दिए जाने को सऊदी अरब के संस्कृति और सूचना मंत्रालय सेंटर फॉर इंटरनेशन कम्यूनिकेशन ने एक ऐतिहासिक घटना बताया है और लोगों से अपील की है वो नई सऊदी नागरिक का स्वागत करें।
 
गौरतलब है कि सऊदी अरब में महिलाओं को अधिकारों में जहां पुरूषों से बहुत पीछे रखा गया है रोबोट सोफिया द्वारा यहां की नागरिकता हासिल किये जाने के बाद यहां महिलाओं की स्थिति में काफी सुधार आया है। अब उन्हें वे अधिकार भी दिए जा रहे हैं जो अभी तक उनके पास नहीं थे। हाल ही में यहां महिलाओं को ड्राइविंग लाइसेंस देने की मंजूरी दी गई है। इससे पहले सऊदी अरब दुनिया का इकलौता ऐसा देश था जहां महिलाओं को गाड़ी चलाने पर रोक थी इसके अलावा यहां महिलाओं को अब स्टेडियम में खेल देखने की इजाजत भी दी जाएगी। अभी तक स्टेडियम में सिर्फ पुरुषों को ही जाने की इजाजत थी। 
 
- अमृता गोस्वामी

Disclaimer: The views expressed here are solely those of the author in his/her private capacity and do not necessarily reflect the opinions, beliefs and viewpoints of Prabhasakshi and do not in any way represent the views of Prabhasakshi.