Prabhasakshi
बुधवार, मई 23 2018 | समय 03:21 Hrs(IST)
अपराजिता (कविता)

अपराजिता (कविता)

हिन्दी काव्य संगम से जुड़ीं कवयित्री डॉ. राजकुमारी ने कानपुर से भेजी है 'अपराजिता' नामक कविता। इसमें उन्होंने अपने मन के भावों को बेहद खूबसूरती के साथ प्रस्तुत किया है।

हजारी प्रसाद द्विवेदी आलोचक के साथ बहुत बड़े रचनाकार भी थे

हजारी प्रसाद द्विवेदी आलोचक के साथ बहुत बड़े रचनाकार भी थे

हिंदी साहित्य के पुरोधा आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी का हिन्दी साहित्य में योगदान कभी नकारा नहीं जा सकता और कबीर जैसे महान संत को दुनिया से परिचित कराने का श्रेय भी उनको ही जाता है।