Prabhasakshi
गुरुवार, अक्तूबर 18 2018 | समय 00:11 Hrs(IST)

राष्ट्रीय

शक है कि राहुल गांधी रबी-खरीफ की फसल का समय जानते होंगे: शाह

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Sep 19 2018 9:06AM

शक है कि राहुल गांधी रबी-खरीफ की फसल का समय जानते होंगे: शाह
Image Source: Google

जयपुर। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को राहुल गांधी पर चुटकी लेते हुए कहा कि उन्हें तो शक है कि कांग्रेस अध्यक्ष को रबी व खरीफ फसल का समय भी पता होगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कांग्रेस किसानों के हितों की रक्षा नहीं कर सकती। राजस्थान के नागौर जिले में एक किसान सभा को संबोधित करते हुए शाह ने कहा, 'भारतीय जनता पार्टी और प्रधानमंत्री मोदी के नारे चुनावी नारे नहीं होते। हमें उन्हें हकीकत में बदलना आता है।’

इसके साथ ही उन्होंने केंद्र में भारी बहुमत के साथ मोदी सरकार के गठन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए राजस्थान की सराहना की। भाजपा ने 2014 के आम चुनाव में राजस्थान में सभी 25 सीटें जीती थीं। उन्होंने कहा, ‘अगर राजस्थान की जनता ने ऐसा जनादेश नहीं दिया होता तो ढुलमुल सरकार बन सकती थी।' शाह ने आरोप लगाया कि कांग्रेस न तो देश और न ही इसके किसानों के हितों की रक्षा कर सकती है क्योंकि वह 'जय जवान, जय किसान' के नारे को लागू करने में विफल रही है।

राज्य व केंद्र की भाजपा सरकारों द्वारा कृषि क्षेत्र में किए गए कार्यों को रेखांकित करते हुए शाह ने किसानों से भाजपा को वोट देने की अपील की। उन्होंने कहा कि किसानों की आय दोगुना करने का प्रयास केवल भाजपा कर सकती है। शाह ने कहा कि सत्ता में आने के बाद से ही नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली भाजपा सरकार ने किसानों के हितों के लिए काम किया है। उन्होंने इस संदर्भ में मृदा स्वास्थ्य कार्ड व रबी व खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढोतरी आदि का जिक्र किया।

उन्होंने कहा, ‘किसानों के साथ खड़ा रहना भाजपा की आदत है। भाजपा सरकार किसानों के लिए समर्पित है और उसने उनके लिए काम किया है। हम 2022 तक किसानों की आय दोगुना करना चाहते हैं। केवल भाजपा ही यह कर सकती है।' कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि उन्हें शक है कि वह (राहुल) जानते भी हैं कि रबी की फसल कब होती है, खरीफ की फसल कब बोई जाती है।

शाह ने कहा, ‘अगर उन्हें (राहुल गांधी को) यह पता होगा कि रबी फसल कब होती है, खरीफ फसल कब होती है तो गनीमत होगी।' उदयपुर में शाह ने कहा कि भाजपा ने हमेशा से ही आदिवासियों पर ध्यान दिया है। उन्होंने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी सरकार ने अलग आदिवासी मामलात मंत्रालय बनाया। मोदी सरकार ने भी आदिवासियों के हितों के लिए अनेक कदम उठाए। शाह नारायण सेवा संस्थान भी गए और वहां पोलियोग्रस्त बच्चों के लिए एक चिकित्सा शिविर का उद्घाटन किया।

तीन दिन की अपनी राजस्थान यात्रा के दौरान शाह पाली, जोधपुर, नागौर, भीलवाड़ा व उदयपुर जिलों में गए। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सोमवार व मंगलवार को अपनी राजस्थान गौरव यात्रा में व्यस्त थीं। वहीं, मंगलवार को वह जयपुर में रहीं।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप


शेयर करें: