Prabhasakshi
सोमवार, जून 25 2018 | समय 22:56 Hrs(IST)

राष्ट्रीय

राज्यसभा के लिए BJP के कुछ उम्मीदवार हो गये तय, शाजिया इल्मी को भी टिकट!

By नीरज कुमार दुबे | Publish Date: Mar 6 2018 10:46AM

राज्यसभा के लिए BJP के कुछ उम्मीदवार हो गये तय, शाजिया इल्मी को भी टिकट!
Image Source: Google

राज्यसभा की 58 सीटों के चुनावों के लिए अधिसूचना जारी हो चुकी है इसी के साथ ही शुरू हो गयी है सभी दलों में टिकट पाने की होड़। इन चुनावों में भाजपा को सबसे ज्यादा फायदा होने वाला है क्योंकि उसके सबसे ज्यादा सदस्य ऊपरी सदन के लिए चुन कर आने वाले हैं। भाजपा को इन चुनावों में जहां अपने मंत्रियों को दोबारा सदन भेजना है वहीं आगामी लोकसभा चुनावों की दृष्टि से विभिन्न राज्यों के जातिगत समीकरणों का भी ध्यान रखना है।

भाजपा के लिए एक और मुश्किल भरी बात यह है कि उसे उन राज्यों के वरिष्ठ नेताओं का भी ख्याल रखना है जो लंबे समय से पार्टी के साथ जुड़े रहे हैं और साथ ही उन नेताओं की भी आकांक्षाएं पूरी करनी हैं जो चुनावों के समय दूसरा दल छोड़कर भाजपा के साथ आये और पार्टी को मजबूती प्रदान की।
 
टिकटों की दौड़
 
टिकटों की सबसे ज्यादा दौड़ उत्तर प्रदेश में मची है क्योंकि यहां 10 में से 8 सीटों पर भाजपा के उम्मीदवार पक्के हैं और 9वीं सीट पर भी भाजपा सहयोगी दलों और दूसरे दलों के असंतुष्ट विधायकों के बलबूते दांव खेल सकती है। उत्तर प्रदेश से राज्यसभा की दौड़ में केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, भाजपा महासचिव राम माधव, अरुण सिंह, अनिल जैन और पार्टी प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी, लक्ष्मीकांत वाजपेयी, विद्यासागर सोनकर, जुगल किशोर, बृजलाल आदि के नाम चर्चा में हैं। उत्तर प्रदेश से शाजिया इल्मी का नाम भी चर्चा में है जोकि आम आदमी पार्टी छोड़कर भाजपा में आई थीं।
 
उत्तर प्रदेश में सब कुछ तय!
 
राज्यसभा उम्मीदवारों को लेकर प्रदेश अध्यक्ष महेंद्रनाथ पांडेय की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और प्रदेश संगठन महामंत्री सुनील बंसल के साथ चर्चा हो चुकी है और अब सब कुछ केंद्रीय नेतृत्व पर छोड़ दिया गया है। पार्टी की चुनाव समिति की बैठक एक-दो दिन में होने की संभावना है क्योंकि 12 मार्च नामांकन की अंतिम तारीख है। 
 
गुजरात में मुश्किल
 
जिन अन्य केंद्रीय मंत्रियों का राज्यसभा का कार्यकाल खत्म हो रहा है उनमें वित्त मंत्री अरुण जेटली शामिल हैं जिन्हें गुजरात से दोबारा टिकट मिलना तय है। इसके अलावा भाजपा को गुजरात से दो अन्य केंद्रीय मंत्रियों पुरुषोत्तम रूपाला और मनसुखभाई मांडविया में से एक का चयन करना होगा क्योंकि यहां से उसके दो ही सांसद चुने जा सकते हैं।
 
बिहार का खेल
 
ऐसी ही स्थिति बिहार में भी है जहां से दो केंद्रीय मंत्रियों रविशंकर प्रसाद और धर्मेंद्र प्रधान का कार्यकाल खत्म हो रहा है। रविशंकर प्रसाद को बिहार से दोबारा उम्मीदवार बनाया जायेगा और प्रधान को उत्तर प्रदेश या उत्तराखंड भेजा जा सकता है। उत्तराखंड से भाजपा का एक उम्मीदवार चुना जाना है जहां प्रदेश भाजपा अध्यक्ष अजय भट्ट और पूर्व सांसद तरुण विजय समेत कई नेता टिकट की कतार में हैं।
 
हिमाचल, मध्य प्रदेश और राजस्थान में आसानी
 
हिमाचल प्रदेश से जेपी नड्डा का दोबारा चुना जाना तय है। मध्य प्रदेश से पांच सांसद चुने जाने हैं यहां से भाजपा के चार और कांग्रेस के एक सांसद का कार्यकाल खत्म हो रहा है। भाजपा के जिन चार सांसदों का कार्यकाल खत्म हो रहा है उनमें दो केंद्रीय मंत्री थावर चंद गहलोत और प्रकाश जावडेकर हैं। इसके अलावा राजस्थान से भाजपा के दो सांसद चुने जाने हैं जिनमें एक सीट पर भूपेंद्र यादव को दोबारा टिकट मिलना तय है।
 
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप


शेयर करें: