• देवेंद्र झाझरिया सहित 12 सदस्यीय भारतीय दल टोक्यो पैरालिंपिक के लिए रवाना

खिताब के प्रबल दावेदार झाझरिया ने एथेन्स और रियो पैरालंपिक खेलों में स्वर्ण पदक जीते थे। उन्होंने जून में क्वालीफाईंग प्रतियोगिता में 65.71 मीटर भाला फेंककर अपने ही विश्व रिकार्ड में सुधार किया था।

नयी दिल्ली। अनुभवी देवेंद्र झाझरिया और मौजूदा विश्व चैंपियन संदीप चौधरी सहित भाला फेंक के पांच एथलीट उस 12 सदस्यीय भारतीय दल में शामिल है जो पैरालंपिक खेलों में भाग लेने के लिये बुधवार को तोक्यो रवाना हुआ। इस दल में ऊंची कूद के दो खिलाड़ी निषाद कुमार और रामपाल तथा चक्का फेंक के एथलीट योगेश कथुनिया भी शामिल हैं। खिताब के प्रबल दावेदार झाझरिया ने एथेन्स और रियो पैरालंपिक खेलों में स्वर्ण पदक जीते थे। उन्होंने जून में क्वालीफाईंग प्रतियोगिता में 65.71 मीटर भाला फेंककर अपने ही विश्व रिकार्ड में सुधार किया था।

इसे भी पढ़ें: प्रमोद भगत मानसिक रूप से सबसे मजबूत, सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन पर होंगी नजरें

झाझरिया को हमवतन अजित सिंह और सुंदर गुर्जर से चुनौती मिल सकती है। भाग्य ने साथ दिया तो भारत इस स्पर्धा (पुरुष भाला फेंक एफ-16) के तीनों पदक जीत सकता है। नीरज चोपड़ा के तोक्यो ओलंपिक के पुरुष भाला फेंक में स्वर्ण पदक जीतने के बाद पैरालंपिक में भी भाला फेंक के एथलीटों पर ही नजर रहेगी। भाला फेंक में पुरुषों के एफ-64 में चौधरी और सुमित एंतिल पर भी निगाह रहेगी। ट्रैक एंड फील्ड स्पर्धाएं 27 अगस्त से शुरू होंगी।