युवा महिला खिलाड़ियों की मदद के लिए एएफआई ने ‘एचएसबीसी इंडिया’ से साझेदारी की

HSBC
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (एएफआई) ने देश में युवा महिला खिलाड़ियों के समर्थन के लिए सोमवार को ‘एचएसबीसी इंडिया’ के साथ साझेदारी की घोषणा की। इस साझेदारी के तहत प्रतिभावान लड़कियों को अंडर-14 और अंडर-16 श्रेणियों के लिए राष्ट्रीय अंतर जिला चैंपियनशिप से चुना जाएगा और वैश्विक स्तर पर प्रदर्शन करने के लिए तैयार किया जायेगा।

मुंबई, 30 अगस्त।  भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (एएफआई) ने देश में युवा महिला खिलाड़ियों के समर्थन के लिए सोमवार को  ‘एचएसबीसी इंडिया’ के साथ साझेदारी की घोषणा की। इस साझेदारी के तहत प्रतिभावान लड़कियों को अंडर-14 और अंडर-16 श्रेणियों के लिए राष्ट्रीय अंतर जिला चैंपियनशिप से चुना जाएगा और वैश्विक स्तर पर प्रदर्शन करने के लिए तैयार किया जायेगा। एएफआई अध्यक्ष आदिल सुमरिवाला ने इस साझेदारी के शुभारंभ पर कहा, ‘‘ चयनित एथलीटों के लिए विशेष कोचिंग शिविर स्थापित किए जाएंगे और उनकी सभी जरूरतों का ध्यान रखा जाएगा।’’

उन्होंने कहा, ‘‘एचएसबीसी के साथ साझेदारी विभिन्न ‘ट्रैक एवं फील्ड’ वर्ग में महिलाओं की भागीदारी को बढ़ाने और उनका समर्थन करने में मदद करेगी। इससे अंतरराष्ट्रीय आयोजनों में उनके प्रदर्शन का स्तर भी बढ़ेगा।’’ एचएसबीसी इंडिया के महाप्रबंधक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी हितेन्द्र दवे ने कहा, ‘‘ हम अपनी महिला एथलीटों का समर्थन करने को तैयार है। हमारी कोशिश है कि उन तक अंतरराष्ट्रीय स्तर के प्रशिक्षण और उपकरणों की पहुंच सुनिश्चित हो।’’ इस मौके पर विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में भारत की पहली पदक विजेता अंजू बॉबी जॉर्ज, बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों की पदक विजेता प्रियंका गोस्वामी (10,000 मीटर पैदल चाल) और अन्नू रानी (भाला फेंक) और एशियाई खेलों की रजत विजेता (400 मीटर) हिमा दास भी मौजूद थीं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़