ऑस्‍ट्रेलियाई ऑलराउंडर कैमरन व्हाइट ने पेशेवर क्रिकेट को कहा अलविदा, अब कोचिंग पर देंगे ध्यान

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अगस्त 21, 2020   16:27
  • Like
ऑस्‍ट्रेलियाई ऑलराउंडर कैमरन व्हाइट ने पेशेवर क्रिकेट को कहा अलविदा, अब कोचिंग पर देंगे ध्यान
Image Source: Google

ऑलराउंडर कैमरन व्हाइट ने कहा कि मेरा स्ट्राइकर्स के साथ एक साल का अनुबंध था। मैं पिछले साल उनके लिये कुछ मैचों में ही खेला और फिर से करार हासिल करने के लिये मुझे उन मैचों में अच्छा प्रदर्शन करने की जरूरत थी।

मेलबर्न।ऑस्ट्रेलिया के पूर्व ऑलराउंडर कैमरन व्हाइट ने शुक्रवार को पेशेवर क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की। इस तरह से उनके लगभग दो दशक तक चले करियर का अंत हो गया। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से चार टेस्ट, 91 वनडे ओर 47 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले 37 वर्षीय व्हाइट ने सीमित ओवरों के सात मैचों में अपनी टीम की कप्तानी भी की। उन्होंने कहा कि वह अब कोचिंग पर ध्यान देंगे। व्हाइट ने क्रिकेट.कॉम.एयू से कहा, ‘‘मैंने निश्चित तौर पर खेलना बंद दिया है। यह पक्का है।’’ 

इसे भी पढ़ें: MS धोनी के संन्यास पर PM मोदी ने लिखा पत्र तो कैप्टन कूल ने इस अंदाज में कहा धन्यवाद 

उन्होंने कहा, ‘‘मेरा स्ट्राइकर्स के साथ एक साल का अनुबंध था। मैं पिछले साल उनके लिये कुछ मैचों में ही खेला और फिर से करार हासिल करने के लिये मुझे उन मैचों में अच्छा प्रदर्शन करने की जरूरत थी। ’’ व्हाइट ने कहा, ‘‘ईमानदारी से कहूं तो मैं बहुत संतुष्ट हूं। मुझे लगता है कि खिलाड़ी के रूप में मेरा समय समाप्त हो चुका है और अब मैं कोचिंग पर ध्यान देने के लिये तैयार हूं। ’’ व्हाइट अभी विक्टोरिया की अंडर-19 टीम को ऑनलाइन कोचिंग दे रहे हैं।







AIFF ने कहा, पुरूष टीम से पहले 2027 विश्व कप के लिये क्वालीफाई कर सकती है भारतीय महिला टीम

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 1, 2020   17:32
  • Like
AIFF ने कहा, पुरूष टीम से पहले 2027 विश्व कप के लिये क्वालीफाई कर सकती है भारतीय महिला टीम
Image Source: Google

एआईएफएफ ने कहा कि पुरूष टीम से पहले 2027 विश्व कप के लिये भारतीय महिला टीम क्वालीफाई कर सकती है।पटेल से सहमति जताते हुए खेल मंत्रालय ने एआईएफए से महिला टीम के 2027 विश्व कप के लिये क्वालीफाई करने के लक्ष्य को लेकर रोडमैप तैयार करने को कहा।

मुंबई।अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ के अध्यक्ष प्रफुल्ल पटेल ने मंगलवार को कहा कि कम तवज्जो मिलने के बावजूद राष्ट्रीय महिला टीम फीफा विश्व कप के लिये पुरूष टीम से पहले क्वालीफाई कर सकती है। पटेल ने कहा कि एआईएफएफ को उम्मीद है कि भारतीय टीम 2027 विश्व कप के लिये क्वालीफाई कर सकती है।पटेल से सहमति जताते हुए खेल मंत्रालय ने एआईएफए से महिला टीम के 2027 विश्व कप के लिये क्वालीफाई करने के लक्ष्य को लेकर रोडमैप तैयार करने को कहा।

इसे भी पढ़ें: विराट कोहली पर बरसे गंभीर! कहा- विश्व क्रिकेट में कोई भी कप्तान नहीं लेगा ऐसा फैसला...

पटेल ने अंडर 17 महिला विश्व कप टीम के सदस्यों से वर्चुअल बातचीत में कहा ,‘‘ महिला टीम की रैंकिंग पुरूष टीम से बेहतर है जबकि महिला फुटबॉल को उतनी तवज्जो भी नहीं मिल पाती।’’ खेलमंत्री किरेन रीजीजू की मौजूदगी में हुई बातचीत में उन्होंने कहा ,‘‘ मुझे लगता है कि महिला टीम विश्व कप के लिये पुरूष टीम से पहले क्वालीफाई कर लेगी। मुझे 2027 विश्व को लेकर उम्मीद है। हम टीम का सहयोग करते रहेंगे।’’ भारतीय महिला टीम 159 देशों में 55वें और पुरूष टीम 210 देशों में 104वें स्थान पर है। रीजीजू ने कहा ,‘‘ सीनियर और जूनियर दोनों स्तरों पर महिला टीम की रैंकिंग पुरूष टीम से बेहतर है।हम विश्व कप के लिये क्वालीफाई करने की काबिलियत रखते हैं। मुझे उम्मीद है कि भारतीय महिला टीम फीफा विश्व कप के लिये क्वालीफाई करेगी। पुरूष टीम को भी क्वालीफाई करना चाहिये।







तोक्यो खाड़ी में वापस पहुंचे ओलंपिक छल्ले, महामारी के उम्मीद का संकेत

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 1, 2020   17:23
  • Like
तोक्यो खाड़ी में वापस पहुंचे ओलंपिक छल्ले, महामारी के उम्मीद का संकेत
Image Source: Google

तोक्यो खाड़ी में ओलंपिक छल्ले वापस पहुंच गए है।इन विशालकाय छल्लों को नीले, काले, लाल, हरे और पीले रंग में रंगा गया है। ये छल्ले लगभग 50 फीट ऊंचे और 100 फीट लंबे हैं। ये छल्ले रात को रोशनी से जगमगाते हैं ।

तोक्यो।ओलंपिक छल्ले तोक्यो खाड़ी में वापस आ गए हैं जिन्हें चार महीने पहले मरम्मत के लिए हटाया गया था। कोविड-19महामारी के कारण तोक्यो ओलंपिक के अगले साल के लिए स्थगित होने के बाद इन छल्लों को हटा दिया गया था। समीप के योकोहामा से सुमद्री रास्ते से मंगलवार को ये छल्ले यहां पहुंचे और इन्हें तोक्यो रेनबो ब्रिज के समीप लगाया गया है।

इसे भी पढ़ें: 'वर्ल्ड कप हीरो' फुटबॉलर पापा बाउबा का 42 वर्ष के उम्र में निधन

इन विशालकाय छल्लों को नीले, काले, लाल, हरे और पीले रंग में रंगा गया है। ये छल्ले लगभग 50 फीट ऊंचे और 100 फीट लंबे हैं। ये छल्ले रात को रोशनी से जगमगाते हैं और तोक्यो ओलंपिक के आयोजन की निशानी है जिनका आयोजन अब 23 जुलाई 2021 से होना है जबकि इसके बाद 24 अगस्त से पैरालंपिक होंगे।







ISL: नॉर्थईस्ट यूनाइटेड-एफसी गोवा के बीच ड्रॉ रहा मुकाबला

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 1, 2020   11:58
  • Like
ISL: नॉर्थईस्ट यूनाइटेड-एफसी गोवा के बीच ड्रॉ रहा मुकाबला
Image Source: Google

नार्थईस्ट युनाइटेड और एफसी गोवा का मैच ड्रॉ पर रोका।मैच में पहला गोल इदरिसा साइला ने 40वें मिनट में पेनल्टी पर किया जबकि इगोर एंगुलो ने 43वें मिनट में बराबरी का गोल दागा।

मडगांव। नार्थईस्ट युनाइटेड ने अपना अपराजेय अभियान बरकरार रखते हुए इंडियन सुपर लीग में सोमवार को एफसी गोवा को 1 . 1 से ड्रॉ पर रोका। गोवा ने अभी तक इस सत्र में किसी मैच में पूरे तीन अंक हासिल नहीं किये हैं।

इसे भी पढ़ें: 'वर्ल्ड कप हीरो' फुटबॉलर पापा बाउबा का 42 वर्ष के उम्र में निधन

मैच में पहला गोल इदरिसा साइला ने 40वें मिनट में पेनल्टी पर किया जबकि इगोर एंगुलो ने 43वें मिनट में बराबरी का गोल दागा।