BCCI लोकपाल ने बेकार की शिकायतों से बचने के लिये निकाला नया तरीका

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 11 2019 5:14PM
BCCI लोकपाल ने बेकार की शिकायतों से बचने के लिये निकाला नया तरीका
Image Source: Google

बीसीसीआई ने अपनी वेबसाइट पर इन नये दिशानिर्देशों को अपलोड किया है। हाल में विभिन्न स्रोतों से काफी संख्या में ईमेल आये थे जिसमें क्रिकेटरों पर हितों के टकराव का आरोप लगाया गया था जिसमें महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण भी शामिल थे।

नयी दिल्ली। हाल के दिनों में कई बेकार की शिकायतों से परेशान बीसीसीआई के लोकपाल और नैतिक अधिकारी डी के जैन ने ऐसा तरीका निकाला है कि केवल उचित शिकायतों पर ही गौर किया जा सके। बीसीसीआई ने अपनी वेबसाइट पर इन नये दिशानिर्देशों को अपलोड किया है। हाल में विभिन्न स्रोतों से काफी संख्या में ईमेल आये थे जिसमें क्रिकेटरों पर हितों के टकराव का आरोप लगाया गया था जिसमें महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण भी शामिल थे। 

भाजपा को जिताए

इसे भी पढ़ें: तेंदुलकर का नैतिक अधिकारी को जवाब, मौजूदा हालात के लिए BCCI को ठहराया जिम्मेदार

अब शिकायतकर्ता संजीव गुप्ता के साथ ये क्रिकेटर भी 14 मई को जैन के समक्ष सुनवाई में पेश होंगे। इसके दिशानिर्देशों के अनुसार ऐसा देखा गया है कि बीते समय और मौजूदा समय के खिलाड़ियों, अधिकारियों, भारतीय क्रिकेट बोर्ड के अधिकारियों आदि के खिलाफ विभिन्न तरह के आरोपों वाले कई ईमेल मिल रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: BCCI राज्य इकाइयों को 19 सदस्यीय सर्वोच्च परिषद की अनुमति देने की संभावना



इसके मुताबिक, इससे अकसर वाजिफ शिकायतों की प्रक्रिया में देरी हो जाती है और अनजाने में ही नैतिक अधिकारी के कार्यालय द्वारा कई ईमेल की अनदेखी हो जाती है। इसलिये एक सही प्रक्रिया बनाना निहायती जरूरी बन गया है ताकि केवल सही शिकायतें ही मिल सकें और अंत में बिना समय बर्बाद किये इन पर कार्रवाई शुरू हो सके। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video