भारतीय पैरा निशानेबाजों का विश्व चैंपियनशिप में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन, पांच पदक जीते

shooters in World Championship
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
दक्षिण कोरिया की टीम 20 पदक के साथ शीर्ष पर है। मेजबान यूएई की टीम दो स्वर्ण सहित चार पदक के साथ आठवें स्थान पर चल रही है। भारत ने तीनों स्वर्ण टीम चैंपियनशिप में जीते। राहुल ने एकमात्र व्यक्तिगत पदक कांस्य पदक के रूप में पी3 मिश्रित 25 मिश्रित पिस्टल एसएच1 फाइनल्स में जीता।

भारत ने विश्व पैरा निशानेबाजी चैंपियनशिप में अपना अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए यूएई के अल ऐन में तीन स्वर्ण पदक सहित पांच पदक जीते। इस प्रदर्शन की बदौलत भारतीय टीम पांचवें स्थान पर रही। सिडनी विश्व चैंपियनशिप 2019 में तीन कांस्य पदक के बाद यह भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। दक्षिण कोरिया की टीम 20 पदक के साथ शीर्ष पर है। मेजबान यूएई की टीम दो स्वर्ण सहित चार पदक के साथ आठवें स्थान पर चल रही है। भारत ने तीनों स्वर्ण टीम चैंपियनशिप में जीते। राहुल ने एकमात्र व्यक्तिगत पदक कांस्य पदक के रूप में पी3 मिश्रित 25 मिश्रित पिस्टल एसएच1 फाइनल्स में जीता।

जाखड़ उस टीम का भी हिस्सा थे जिसने पी3 टीम स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता। इस टीम में पैरालंपिक पदक विजेता सिंहराज और निहाल सिंह भी शामिल थे। जाखड़ ने बाद में रूबीना फ्रांसिस और दीपेंद्र सिंह के साथ मिलकर पी5 मिश्रित 10 मीटर एयर पिस्टल स्टैंडर्ड एसएच1 में स्वर्ण पदक जीता। पी1 पुरुष 10 मीटर एयर पिस्टल एसएच1 में सिंहराज और निहाल ने पैरालंपिक चैंपियन मनीष नरवाल के साथ मिलकर कोरिया और तुर्की की टीम को पछाड़ते हुए स्वर्ण पदक जीता। सिंहराज हालांकि व्यक्तिगत फाइनल में निराशाजनक प्रदर्शन करते हुए चौथे स्थान पर रहे।

वह अधिकांश समय आगे चल रहे थे लेकिन फाइनल में जब छह शॉट बाकी थे तब सात अंक का निशाना लगाकर बाहर हो गए। सिंहराज ने नरवाल और दीपेंद्र के साथ मिलकर पी4 मिश्रित 50 मीटर पिस्टल एसएच1 में रजत पदक जीता। नई राइफल और नई व्हीलचेयर के साथ निशानेबाजी कर रही पैरालंपिक स्टार अवनी लेखरा आर8 महिला 50 मीटर थ्री पोजीशन एसएच1 और आर2 महिला 10 मीटर एयर राइफल स्टैंडिंग एसएच 1 फाइनल में क्रमश: पांचवें और छठे स्थान पर रहीं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़