IND vs WI 2nd ODI: भुवनेश्वर ने कहा, किफायती गेंदबाजी करोगे तो मिलेंगे विकेट

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Aug 12 2019 12:35PM
IND vs WI 2nd ODI: भुवनेश्वर ने कहा, किफायती गेंदबाजी करोगे तो मिलेंगे विकेट
Image Source: Google

भारतीय तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने कहा है कि वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान उनके दिमाग में रन बनाने से रोकना था, विकेट चटकाना नहीं क्योंकि उनका मानना है कि किफायती गेंदबाजी का फायदा हमेशा मिलता है। भुवनेश्वर ने 31 रन देकर चार विकेट चटकाए जिससे भारत ने वर्षा से प्रभावित मैच में वेस्टइंडीज को डकवर्थ लुईस पद्धति के तहत 59 रन से हराकर तीन मैचों की श्रृंखला में 1-0 की बढ़त बनाई।

पोर्ट आफ स्पेन। भारतीय तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने कहा है कि वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान उनके दिमाग में रन बनाने से रोकना था, विकेट चटकाना नहीं क्योंकि उनका मानना है कि किफायती गेंदबाजी का फायदा हमेशा मिलता है। भुवनेश्वर ने 31 रन देकर चार विकेट चटकाए जिससे भारत ने वर्षा से प्रभावित मैच में वेस्टइंडीज को डकवर्थ लुईस पद्धति के तहत 59 रन से हराकर तीन मैचों की श्रृंखला में 1-0 की बढ़त बनाई।

इसे भी पढ़ें: कोहली ने मियांदाद का रिकॉर्ड तोड़कर गांगुली को पीछे छोड़ा

भुवनेश्वर ने मैच के बाद कहा कि जब मैं गेंदबाजी के लिए आया तो सिर्फ इतना सोच रहा था कि मुझे किफायती गेंदबाजी करनी है, अधिक खाली गेंद फेंकनी हैं। मुझे लगता है कि अगर आप किफायती गेंदबाजी करोगे तो विकेट अपने आप मिलेंगे। मैं नतीजे के बारे में अधिक नहीं सोचता क्योंकि हमें पता है कि अगर हम एक या दो विकेट चटकाएंगे तो मैच में वापसी कर लेंगे। भारत ने कोहली की 125 गेंद पर 14 चौकों और एक छक्के की मदद से 120 रन की पारी से सात विकेट पर 279 रन बनाए। यह वनडे में उनका 42वां शतक है। उन्होंने श्रेयस अय्यर (68 गेंदों पर 71) के साथ चौथे विकेट के लिये 125 रन की साझेदारी की।

इसे भी पढ़ें: घुटने की दूसरी सर्जरी के लिए तैयार नहीं थे रैना, दर्द ने किया मजबूर



भुवनेश्वर ने कहा कि आप विराट के हावभाव से देख सकते हैं कि उसे इस शतक की कितनी जरूरत थी। इसलिए नहीं कि वह फार्म में नहीं था बल्कि इसलिए क्योंकि वह 70 और 80 रन के स्कोर पर आउट हो रहा था और उसे हमेशा से बड़ी पारियां खेलने के लिए जाना जाता है। कोहली ने अपना पिछला शतक आस्ट्रेलिया के खिलाफ मार्च में बनाया था। उन्होंने इसके बाद विश्व कप में पांच अर्धशतक लगाए लेकिन शतक बनाने में विफल रहे।

इसे भी पढ़ें: क्रिकेटरों पर डोपिंग के सभी नियम लागू कर पाना NADA के सामने बड़ी चुनौती, जानें क्यों?

भुवनेश्वर ने कहा कि विकेट आसान नहीं था, जब विराट ड्रेसिंग रूम में लौटा तो उसने कहा कि गेंद पुरानी होने के बाद रन बनाना आसान नहीं है। भुवनेश्वर ने कहा कि बढ़त बनाने के बाद वह अब श्रृंखला जीतना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि हम श्रृंखला में आगे हैं और इसे जीतना चाहते हैं। आप जब विदेश में खेल रहे होते हो तो सिर्फ श्रृंखला जीतना चाहते हो।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video